सीबीएससी 12वीं के नतीजों का ऐलान

जागरूक टाइम्स 506 May 2, 2019

- गाजियाबाद की हंसिका शुक्ला और मुजफ्फरनगर की करिश्मा अरोड़ा ने किया टॉप

नई दिल्ली (ईएमएस)। सीबीएससी ने 12वीं के नजीतों का ऐलान कर दिया है। इसबार 12वीं की परीक्षा में हंसिका शुक्ला और करिश्मा अरोड़ा ने टॉप किया, उनके 500 में से 499 नंबर हैं। हंसिका डीपीएस गाजियाबाद की छात्र हैं। वहीं करिश्मा मुजफ्फरनगर की हैं। इस बार लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सीबीएसई की परीक्षाएं पहले हुईं और गुरुवार को 12वीं के नतीजों का ऐलान भी हो गया। सबसे बड़ी बात यह रही की इस बार सीबीएसई ने एक साथ सभी 10 जोन के रिजल्ट घोषित कर दिए है। इस बार 83.40 प्रतिशत स्टूडेंट पास हुए हैं।

जिसमें 88.70 लड़कियां, 79.50 प्रतिशत लड़के और 88.49 प्रतिशत ट्रांसजेंडर पास हुए। इस साल परीक्षा में करीब 13 लाख स्टूडेंट बैठे थे। पिछली बार के मुकाबले इस बार नतीजे काफी पहले आ गए हैं। हालांकि, अबतक कई राज्यों के बोर्ड नतीजे भी आ चुके हैं। पिछले साल की तरह ही इस बार भी लड़कियां अव्वल रही हैं। 88.70 प्रतिशत लड़कियों ने सफलता हासिल की है, वहीं 79.50 प्रतिशत लड़के उत्तीर्ण हुए हैं। ट्रांसजेंडर्स का पासिंग औसत 88.49 है। परीक्षा इस बार बिना किसी विवाद के संपन्न हुई। गौरतलब है कि पिछले बार 10वीं के मैथ्य और 12वीं के अर्थशास्त्र के पेपर लीक होने के कारण सीबीएसई की खासी किरकिरी हुई थी। पिछले साल, सीबीएसई 12 वीं के परिणाम और सीबीएसई 10 वीं के परिणाम 26 मई और 12वीं के 29 मई को जारी किए गए थे।

रिजन के हिसाब से छात्र-छात्राओं के प्रर्दशन की बात करतें तो इस बार त्रिवेंद्रम रिजन का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ है। इस रिजन के 98.2 प्रतिशत स्टूडेंट पास हुए हैं। दूसरे स्थान पर 92.93 प्रतिशत के साथ चेन्नै रीजन है, वहीं दिल्ली रिजन 91.78 प्रतिशत के साथ तीसरे पायदान पर है। केंद्रीय विद्यालयों के 98.54 प्रतिशत स्टूडेंट पास हुए हैं। डीपीएस मेरठ रोड, गाजियाबाद की हंसिका शुक्ला और मुजफ्फरनगर की करिश्मा अरोड़ा ने संयुक्त रूप से टॉप किया है। दोनों के 500 में से 499-499 नंबर हैं। दूसरे पायदान पर भी 3 लड़कियां संयुक्त रूप से हैं। ऋषिकेश की गौरांगी चावला, रायबरेली की ऐश्वर्या और जिंद (हरियाणा) की भव्या 498 अंकों के साथ संयुक्त रूप से दूसरे पायदान पर रहीं।

इस बार 1.70 करोड़ कॉपी का मूल्यांकन सीबीएसई ने किया है इन कॉपी को 3000 मूल्यांकन केन्द्रों पर जांचा गया है। एक शिक्षक एक दिन में करीब 25 कॉपी का मूल्यांकन पूरा करता है। इस बार सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा में सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश राज्य के छात्रों ने हिस्सा लिया है। उत्तर प्रदेश से कुल 33,86,613 छात्रों ने सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में हिस्सा लिया वहीं छात्राओं की बात करें तो सबसे ज्यादा बोर्ड परीक्षा में दिल्ली की छात्राओं ने हिस्सा लिया। दिल्ली से करीब 27,22,71 छात्राओं ने सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में हिस्सा लिया है।



Leave a comment