घर पहुंचा जेटली का पार्थिव शरीर, रविवार को होगा अंतिम संस्कार

जागरूक टाइम्स 383 Aug 24, 2019

- पीएम मोदी, अमित शाह सहित कई दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि

- पीएम मोदी नहीं ले सकेंगे भाग

नई दिल्ली (ईएमएस)। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का पार्थिव शरीर एम्स से घर लाय गया है जहां उनका अंतिम दर्शन करने वालों का हुजूम उमड़ा है। बीजेपी नेता सुधांशु मित्तल के मुताबिक रविवार दोपहर निगमबोध घाट में अंतिम संस्कार किया जाएगा। जेटली के परिवार ने विदेश यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सारे कार्यक्रम पूरा करने के बाद ही देश लौटने को कहा है,इसकारण पूर्व वित्तमंत्री के अंतिम संस्कार में वह हिस्सा नहीं ले पाएंगें। जेटली का निधन दोपहर 12 बजकर सात मिनट पर एम्स में हो गया। उनका कुछ सप्ताह से अस्पताल में इलाज चल रहा था। वह 9 अगस्त को एम्स में भर्ती हुए थे। एम्स में औपचारिकताओं के बाद जेटली के पार्थिव शरीर को उनके कैलाश कॉलोनी स्थित आवास पर लाया गया। रविवार सुबह उनका पार्थिव शरीर बीजेपी मुख्यालय ले जाया जाएगा जहां राजनीतिक दलों के नेता उन्हें अंतिम विदाई देगा। बीजेपी मुख्यालय से पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए निगमबोध घाट ले जाया जाएगा।

मोदी ने याद किया जेटली को, पत्नी से फोन पर बात की
प्रधानमंत्री मोदी ने जेटली की पत्नी और बेटे रोहन को फोन कर सांत्वना दी। इस दौरान जेटली के परिवार ने पीएम से दौरा रद्द नहीं करने का आग्रह किया। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, अरुण जेटली जी राजनीतिक के स्तंभ थे, ज्ञान से भरे हुए और कानून के विद्वान। वह स्पष्ट सोच वाले नेता थे जिन्होंने भारत की प्रगति में अविस्मरणीय योगदान दिया। उनका चले जाना बहुत पीड़ादायी है। मैंने उनकी पत्नी संगीता जी और बेटे रोहन से बात कर संवेदना प्रकट की। ओम शांति! जेटली के व्यक्तित्व को याद करते हुए पीएम ने कहा कि वह बहुत जिंदादिल और हास्य-विनोद से भरपूर शख्सियत थे। उन्होंने जेटली को संविधान, कानून, समाजसेवा जैसे क्षेत्रों का जानकार बताया।

उनके योगदान का याद किया जाएगा : सोनिया
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जेटली को श्रद्धांजलि देकर उनके परिवार के लिए संवेदना प्रकट की। कांग्रेस की ओर से किए ट्वीट के अनुसार, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अरुण जेटली के निधन पर गहरा दुख जताया। उन्होंने कहा कि श्री जेटली के लंबे सार्वजनिक जीवन, राजनेता और मंत्री के तौर पर उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।'

पारिवारिक मित्र और सदस्य को खो दिया: शाह
जेटली के निधन के बाद गृहमंत्री अमित शाह अपना हैदराबाद दौरा संक्षिप्त कर दिल्ली लौट रहे हैं। शाह ने श्रद्धांजलि देते हुए कई ट्वीट कर बतौर नेता और वित्त मंत्री रहते उनकी उपलब्धियों को याद किया। शाह ने बीजेपी के दिग्गज नेता को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनके निधन के साथ मैंने एक पारिवारिक मित्र और सदस्य को खो दिया। जीएसटी और नोटबंदी जैसे फैसलों में भी जेटली के योगदान को शाह ने याद किया।उन्होंने ट्वीट किया,जेटली के निधन से अत्यंत दुखी हूं, जेटली जी का जाना मेरे लिये एक व्यक्तिगत क्षति है।

भाजपा में अरुण जी की कमी हमेशा खलेगी: राजनाथ
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा,जेटली जी को अर्थव्यवस्था को निराशा के दौर से बाहर निकालने और वापस पटरी पर लाने के लिए हमेशा याद किया जाएगा। भाजपा में अरुण जी की कमी हमेशा खलेगी। मैं उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।

अरुण जटेली ने पूरी ईमानदारी से देश सेवा की: स्मृति ईरानी
महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा,एक कद्दावर नेता जिन्होंने हमेशा अभावग्रस्त लोगों की मदद की...बेमिसाल वक्ता, कानून विशेषज्ञ अरुण जेटली जी ने पूरी ईमानदारी एवं जोश के साथ देश और संगठन की सेवा की। मैं उन्हें श्रद्धांजलि देती हूं। उनके प्रियजनों को संवेदनाएं। ओम शांति।

देश के लिए बड़ी क्षति: केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी जेटली के असमय निधन पर शोक व्यक्त करते हुए इस देश के लिए बड़ी क्षति बताया।दुख की इस घड़ी में हमारी संवेदनाएं एवं प्रार्थना उनके परिवार के साथ हैं।’’

जटेली बेहतरीन सांसद एवं बेमिसाल वकील: ममता
बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा,अरुण जेटली जी के निधन से बेहद दुखी हूं। एक बेहतरीन सांसद एवं बेमिसाल वकील, सभी दल उनका सम्मान करते थे। भारतीय राजनीति में उनके योगदान को याद किया जाएगा। उनकी पत्नी, बच्चों, दोस्तों और प्रशंसकों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री मंत्री को कई सप्ताह से एम्स में इलाज चल रहा था, जहां उन्होंने आज शनिवार दोपहर 12 बजकर सात मिनट पर आखिरी सांस ली। वह 66 वर्ष के थे।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने जताया दुख
उत्तरप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने पूर्व केन्द्रीय वित्तमंत्री एवं उत्तरप्रदेश से राज्यसभा सदस्य अरूण जेटली के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। उन्होंने अनेक भूमिकाओं में देश की सेवा की है। राज्यपाल ने कहा कि जेटली के निधन से भारतीय राजनीति की अपूरणीय क्षति हुई है। उन्होंने दिवंगत आत्मा को सद्गति प्रदान करने की कामना करते हुए दु:खी परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

Leave a comment