वायुसेना ने लिया पुलवामा का बदला, सीमापार कर आतंकियों के बंकरों को उड़ाया

जागरूक टाइम्स 254 Feb 26, 2019

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारतीय वायुसेना ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान के घर में घुसकर बदला लिया है। वायुसेना ने बीती रात ३.00 बजे पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (Pok) में स्थित जैश-ए-मोहम्मद के बंकरों को उड़ा दिया है। सूत्रों के अनुसार भारतीय वायुसेना ने पुलवामा आतंकी हमले का बदला ले लिया गया है। 12 मिराज लड़ाकू विमानों ने आतंकी कैंपों पर हमला किया। सेना ने इस हमले में आतंकियों के ठिकानों पर 1000 किलो बम गिराए है। जिसके बाद आतंकी कैंप नेस्तानाबूत हो गए है। पाकिस्तान ने भारत द्वारा की गई कार्रवाई के बाद प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भारतीय वायुसेना के विमान बीती रात में मौजूद थे।
     
भारतीय वायुसेना के सूत्रों के हवाले से कहा
कि 26 फरवरी की तड़के भारतीय लड़ाकू विमान मिराज-2000 के एक समूह ने एलओसी पारकर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में आतंकी कैंप पर बमबारी की और उसे पूरी तरह से नष्ट कर दिया। आतंकी कैंप पर 1000 किलो बम गिराए गए। इस अभियान में 12 मिराज विमानों ने हिस्सा लिया है।

इससे पहले पाकिस्तानी सेना के डीजी आईएसपीआर आसिफ गफूर ने आरोप लगाया था कि भारतीय वायुसेना का विमान एलओसी पार करके पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में घुस आया था। जिसका पाकिस्तानी सेना के जवाब पर वायुसेना को वापस लौटना पड़ा। गफूर ने अपने पहले ट्वीट में लिखा था, 'भारतीय वायुसेना ने एलओसी का उल्लंघन किया। पाकिस्तानी वायुसेना ने तुरंत उसका जवाब दिया। भारतीय विमान वापस लौटे। इसके बारे में ज्यादा जानकारी जुटाई जा रही है।

अपने दूसरे ट्वीट में गफूर ने लिखा, 'भारतीय विमानों ने मुजफ्फराबाद इलाके से घुसपैठ की। पाकिस्तानी वायुसेना ने समय पर और प्रभावी कार्रवाई की जिसके कारण भारतीय वायुसेना वापस लौट गई। किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ और न ही कोई हताहत हुआ। इससे पहले पिछले शुक्रवार को आसिफ गफूर ने कहा था कि हम जंग के लिए तैयार नहीं हो रहे हैं लेकिन यदि दूसरी तरफ से युद्ध होता है तो हम उसका उचित जवाब देंगे।

वहीं सोमवार और मंगलवार सुबह पाकिस्तान ने राजौरी और पुंछ जिलों में एलओसी पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। पाकिस्तानी सेना ने रात को कई बार भारतीय चौकियों पर गोलीबारी की। सेना जिसका माकूल जवाब रही है। 14 फरवरी को हुए पुलवामा हमले के बाद से पाकिस्तान रोजाना एलओसी पर मोर्टार दाग रहा है। इसी बीच पिछले दिनों पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र को पत्र लिखकर भारत की शिकायत की थी।

उन्होंने भारत पर आरोप लगाया था कि उनका देश शांति चाहता है लेकिन भारत युद्ध की तैयारी कर रहा है। उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ की गाड़ियों पर आतंकियों ने फिदायिन हमला किया। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए। हमले के कुछ देर बाद ही आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ले ली थी। पुलवामा आतंकी हमले के बाद देश सरकार से आतंकियों पर कार्रवाई करने की मांग कर रहा था।



Leave a comment