देशभर में भारी बारिश से अल्र्ट जारी, केरल में 20 की मौत

जागरूक टाइम्स 239 Aug 9, 2018

नई दिल्ली । उत्तर प्रदेश और बिहार सहित देश के कई राज्यों में अभी भी भारी बारिश ने तबाही मचाई हुई है। पिछले कई दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। देशभर के कई जिले बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। केरल में भी लगातार हो रही भारी बारिश की वजह से बाढ़ और भूस्खलन जैसे हालात पैदा हैं, जिसमें कम से कम २० लोगों की मौत हो गई है।

केरल के इडुक्की जिले में भारी बारिश के चलते जलस्तर काफी बढ़ गया, जिसकी वजह से इडुक्की बांध को खोल दिया। यह बांध करीब २६ सालों से बंद था। उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की वजह से कई नदियां उफान पर हैं। नेपाल के बाल्मीकि बैराज से एक लाख ७५ हजार क्यूसेक पानी छोड़ने, पहाड़ी और मैदानी क्षेत्रों में लगातार बारिश होने से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। घाघरा नदी खतरे के निशान को पार कर गई है।

गोरखपुर के कई गांवों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। इसके अलावा गंडक नदी का है। बाल्मीकि बैराज से पानी छोड़ने से गंडक नदी का जलस्तर भी तेजी से बढ़ा है। अमवाखास, छितौनी, अहिरौली दान एवं नरवाजोत तटबंध पर पानी का जबरदस्त दबाव है। इसे देखते हुए अलर्ट जारी किया है।

- २८ जिलों में बारिश से अलर्ट
मध्य प्रदेश में १२ दिनों के लंबे अंतराल के बाद एक बार फिर मानसून ने जोरदार दस्तक दी है। मौसम विभाग ने राज्य के २८ जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग की माने तो अगले २४ घंटों में बारिश का सिलसिला लगातार जारी रहेगा।

राजधानी भोपाल, रायसेन, होशंगाबाद, विदिशा, सीहोर और हरदा जिलों में भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के जिन जिलों में अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में रीवा, सतना, सिंगरौली, सीधी, पन्ना, छतरपुर, टीकमगढ़, सागर, दमोह, अनूपपुर, शहडोल, डिंडौरी, उमरिया, मंडला, बालाघाट, नरसिंहपुर, जबलपुर, कटनी, सिवनी, छिंदवाड़ा, बैतूल, अशोकनगर, भोपाल, रायसेन, होशंगाबाद, विदिशा, सीहोर और हरदा जिला शामिल है।

Leave a comment