डीजल ने साल के सबसे ऊंचे आंकड़े को छुआ, पेट्रोल भी महंगा

जागरूक टाइम्स 189 Aug 30, 2018

नई दिल्ली (। देश में पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों ने आम आदमी की कमर तोड़ कर रख दी है। गुरुवार को भी ईंधन की कीमतें बढ़ी हैं। इस बढ़ोत्तरी के बाद दिल्ली में डीजल एक साल के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गया है। पेट्रोल ने भी नेशनल कैपिटल रीजन (एनसीआर) में 78.30 प्रति लीटर का आंकड़ा छू लिया है।

गुरुवार को पेट्रोल की कीमतों में 12 पैसे की बढ़ोत्तरी हुई है। इस बढ़त के साथ ही यह दिल्ली एनसीआर में 78.30 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं कोलकाता में इसकी कीमत 81.23 रुपये, मुंबई में 85.72 और चेन्नई में इसके लिए 81.35 रुपये प्रति लीटर चुकाने पड़ रहे हैं। कोलकाता में पेट्रोल अपने उच्च स्तर पर पहुंच चुका है। मुंबई में भी यह 86 का आंकड़ा पार करने के करीब है।

डीजल की बात करें तो इसमें भी रैली जारी है। गुरुवार को इसकी कीमतों में 18 पैसे की बढ़ोत्तरी हुई है। इंडियन ऑयल कंपनी के अनुसार दिल्ली एनसीआर में एक लीटर डीजल के लिए आपको 69.93 रुपये चुकाने पड़ रहे हैं। इस तरह डीजल एक साल में सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गया है। कोलकाता में इसकी कीमत 72.78 रुपये प्रति लीटर हो गई है। मुंबई में इसके लिए आपको 74.24 रुपये प्रति लीटर और चेन्नई में यह 73.88 रुपये का मिल रहा है। इसके साथ ही इसने नये र‍िकॉर्ड स्तर को छू लिया है। पिछले कुछ दिनों से कच्चे तेल की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी जारी है। कच्चे तेल के अलावा पेट्रोल और डीजल पर केंद्र और राज्य सरकारों की तरफ से वसूले जाने वाला टैक्स भी इनकी आसमान पर पहुंचती कीमतों के लिए जिम्मेदार है।

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में एक बार फिर शुरू हुई बढ़ोत्तरी को लेकर केंद्र सरकार ने अपना पक्ष रखा है। बुधवार को सरकार ने कहा कि कच्चे तेल की कीमतों हो रही यह बढ़ोत्तरी कुछ समय के लिए है। जल्द ही इसकी कीमतों में कटौती शुरू हो जाएगी। आर्थ‍िक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा, कच्चा तेल 70 डॉलर प्रति बैरल के नीचे चला गया था। एक बार फिर यह 74-75 डॉलर पर पहुंच गया है। हालांकि यह सिर्फ कुछ समय के लिए ही रहेगा। उन्होंने कहा कि कुछ देश कच्चे तेल का उत्पादन नहीं कर पा रहे हैं। इससे मुझे उम्मीद है कि यह समस्या कुछ समय के लिए ही रहेगी। जल्द ही हम 70-71 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर आ जाएंगे।

Leave a comment