सिरोही के सपूत का आज होगा अंतिम संस्कार

जागरूक टाइम्स 94 May 24, 2018
नागाणी (सिरोही)। सिरोही जिले के नागाणी गांव के सपूत रमेश कुमार की पार्थिव देह मंगलवार को पंचतत्वों में विलीन की जाएगी। इससे पहले राजकीय और सैन्य सम्मान से उन्हें अंतिम विदाई दी जाएगी। उनकी पार्थिव देह सोमवार देर रात तक उनके गांव पहुुंचने की उम्मीद जताई जा रही थी। उनके भाई उनकी देह लाने जम्मू कश्मीर गए हुए थे। सोमवार को उनके गांव पहुंची जागरूक टाइम्स की टीम को उनके भाइपा के लोगों ने बताया कि पूरा गांव रमेश की शहादत से गौरवान्वित हो गया है, हालांकि उनकी मां और पिता को अभी तक इस बारे में नहीं बताया गया है। रमेश कुमार के ताऊ और चाचा के घर में ही अधिकांश सदस्य मौजूद थे और जम्मू कश्मीर गए रमेश के भाई से लगातार फोन पर संपर्क में थे। उनके चाचा जीवाराम और देवाराम ने बताया कि पांच भाई और बहनों में रमेश सबसे छोटा था। चार साल पहले ही वह सेना में भर्ती हुआ था। जाबांज और साहसी रमेश कुमार चंद्रशेखर आजाद जैसे स्वतंत्रता सेनानियों को अपना आदर्श मानता था। जम्मू कश्मीर में शुक्रवार को आतंककारियों के खिलाफ चलाए गए अभियान में सेना की 125वीं यूनिट ने सात आंतककारियों को ढेर कर दिया था। इसी दौरान आतंकारियों की एक गोली से रमेश कुमार शहीद हो गया था। रमेश के परिवार वालों को घटना के कुछ घंटों बाद ही फोन पर इस बारे में सूचना मिल गई थी। इसके बाद से जैसे-जैसे उसके रिश्तेदारों को पता चला, सभी नागाणी में फोन कर जानकारी लेने लगे। कई रिश्तेदार नागाणी पहुंच भी गए। जागरूक टाइम्स की टीम सोमवार को रमेश के परिजनों से मिलने उसके घर पहुंची तो रमेश की मां सामान्य दिनों की तरह नजर आ रही थी। उन्हें इस बारे में पता नहीं था कि उनका लाल देश के लिए शहीद हो चुका था। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. प्रेरणा शेखावत ने बताया कि शहीद के परिवार के सीनियर लोगों को इस बारे में जानकारी दे दी गई है। माउंट आबू से सेना के अधिकारी भी गांव आकर परिजनों से मिल चुके हैं। पुलिस के साथ ही प्रशासनिक अधिकारी भी गांव जाकर आए हैं ताकि रमेश की अंत्येष्टि के स्थल व अन्य बातों के बारे में जानकारी कर सके। विधायक जगसीराम कोली ने रमेश के चाचा-ताऊ से बातचीत कर उन्हें ढाढ़स बंधाया है।

Leave a comment