गुमशुदा महिला व उसके पुत्र की हत्या का राजफाश

जागरूक टाइम्स 93 May 24, 2018
जावाल/सिरोही। पुलिस ने जावाल कस्बे से लापता विवाहिता व उसके नाबालिग पुत्र की हत्या का राजफाश कर बुधवार को एक दम्पती समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। उधर पुरोहित समाज समेत अन्य समाज के लोगों ने घटना का जमकर विरोध करते हुए प्रदर्शन किया। एक आरोपी के गांव ऊड़ से गुजरते राज्य राजमार्ग पर टायर आदि जलाकर यातायात अवरूद्ध कर दिया। बाद में पुलिस व अन्य अधिकारियों की समझाइश पर लोग शांत हुए। पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश के अनुसार मामले की गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व सिरोही डीएसपी को खास निर्देश दिए गए एवं हर एंगल को खंगाला गया। अनुसंधान तकनीकी सहायता व शक के आधार पर प्रकरण में पाडीव निवासी जानाराम पुत्र गणेशाराम भील, उसकी पत्नी सीतादेवी एवं ऊड़ निवासी हकीम खान की भूमिका सामने आई। प्रारम्भिक पूछताछ के बाद तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों ने हत्या के बाद महिला श्रीमती विमला (32) पत्नी जेपाराम पुरोहित का शव गुजरात के थराद के देवदर गांव के समीप एवं उसके पुत्र आकाशकुमार (12) का शव मांडवा, जिला उदयपुर क्षेत्र के नाले में फेंक दिया था। जावाल निवासी विमला पत्नी जेपाराम पुरेाहित व उसका पुत्र आकाश 22 दिसम्बर को अचानक लापता हो गए। कई दिन से घर नहीं पहुंचने पर 28 दिसम्बर को प्रकाशचंद्र पुत्र रावताराम पुरोहित ने बरलूट थाने में गुमशुदगी दर्ज करवाई। दोनों की काफी तलाश करवाई एवं इश्तहार भी निकाला गया। एक आरोपी जावाल में मृतका के मकान में किराएदार था। बरलूट पुलिस के अनुसार आरोपी मां व बेटे को बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गए। सिरोही में किसी स्थान पर पेय पदार्थ में जहर मिलाकर पिला दिया। बाद में दोनों के शव को वाहन में ले जाकर गुजरात व उदयपुर क्षेत्र में फेंक दिया। ज्ञातव्य है कि मांडवा पुलिस व थराद पुलिस की ओर से बरामद शवों की शिनाख्तगी के प्रयासों के बावजूद पहचान नहीं होने पर उनका दाह संस्कार करवाने की सूचना है। उधर मां-बेटे की हत्या को लेकर लोगों में रोष व्याप्त हो गया। लोगों ने ऊड़ के समीप सड़क पर टायर आदि जलाकर जाम लगा दिया। सूचना मिलने पर एएसपी पन्नालाल, डीएसपी भवानीसिंह व एसडीएम नाथूसिंह राठौड़ ने मौके पर पहुंच निष्पक्ष जांच करने का भरोसा दिलाते हुए समझाइश कर लोगों को शांत किया। अधिकारियों ने आरोपी के घर को सील कर पुलिसकर्मी तैनात कर दिए। इस अवसर पर सिरोही भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष नारायणलाल पुरोहित, तुलसीभाई पुरोहित, राष्ट्रीय हिन्दू एकता मंच प्रदेश संयोजक राकेश राजगुरु, नारायणसिंह देलदर, एड. अशोक पुरोहित, छगनलाल पुरोहित, छगनलाल घांची, कैलाश टेलर, भाजयुमो जिलाध्यक्ष हेमंत पुरोहित, कैलाश रावल, कांतिलाल मंडवारिया, सुरेश पाड़ीव, नटवरसिंह सियाणा, मालाराम ुपुरोहित मनोरा, गोपाल पुरोहित मंडवाड़ा, भीमराज सिंघल, नरेंद्र पुरोहित जामोतरा, हिम्मत माली जावाल, हिमांशु राजपुरोहित, परमवीरसिंह आढा समेत कई गणमान्य लोग मौजूद थे। पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश ने प्रकरण को लेकर आमजन से मिथ्या व भ्रामक खबरों व सोशल मीडिया पर अपवाह फैलाने वालों से सतर्क रहने व उनकी सूचना देने की अपील की है। प्रकरण केस ऑफिसर स्कीम में रखा जाएगा। अनुसंधान में त्वरित कार्यवाही करने वाली टीम को पुरस्कृत किया जाएगा।

Leave a comment