गोचर, चारागाह एवं सार्वजनिक भूमियों को अतिक्रमण मुक्त करें

जागरूक टाइम्स 200 May 24, 2018
सिरोही जिला महिला कांग्रेस कमेटी सिरोही के एक प्रतिनिधि मण्डल ने जिला कलेक्टर सिरोही से भेंट कर सिरोही जिले की गोचर एवं चारागाह भूमियों को अतिक्रमण मुक्त करने की मांग की। महिला कांग्रेस कमेटी की जिलाध्यक्ष हेमलता शर्मा, जिला उपाध्यक्ष मीरादेवी रावल, महामंत्री रूक्मणी देवासी एवं ब्लाॅक अध्यक्ष पूरण कंवर के प्रतिनिधि मण्डल ने जिला कलेक्टर श्री लक्ष्मीनारायण मीणा से माननीय सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा ब्पअपस ।Civil Appeal No. 1132/2011 @ SLP © No. 3109/2011, माननीय राजस्थान उच्च न्यायालय द्वाराS.B. Civil Writ Petition No. 11153/2011 Suo Moto vs. State एवं माननीय राजस्थान उच्च न्यायालय के द्वारा D.B. Civil Writ Petition No. 1536/2003 ABDUL RAHMAN Versus STATE OF RAJASTHAN के मामले में दिये गये निर्णय की पालना सुनिश्चित करवाने की मांग की है। उन्होंने जिला कलेक्टर महोदय को अवगत करवाया कि विधानसभा के अतारांकित प्रश्न संख्या 276 (राजस्व) के जवाब में सिरोही एवं शिवगंज तहसील क्षेत्र की प्रत्येक ग्राम पंचायत द्वारा बमाह जुलाई 2014 में सर्वे कर गोचर व चारागाह भूमियों पर अवैध रूप से काबिज व्यक्तियों की सूचियां सम्बन्धित विकास अधिकारी, सम्बन्धित तहसीलदार के माध्यम से आप श्रीमान को प्रस्तुत की गई थी। लेकिन करीब 2 वर्ष गुजर जाने के बावजूद आज दिनांक तक धरातल पर कोई कार्यवाही नहीं हुई है एवं गोचर/चारागाह भूमियों पर हजारों अतिक्रमण आज भी यथावत है। राजस्थान विधानसभा के चालू सत्र में एक प्रश्न के जवाब में माननीय पंचायतीराज मंत्री ने लिखित में यह स्वीकार किया है कि सिरोही जिले की गोचर भूमियों पर अतिक्रमण हुए है। लेकिन उक्त अतिक्रमणों के विरूद्ध कोई कार्यवाही नहीं होने से प्रशासन की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह लग रहा है। महिला कांग्रेस प्रतिनिधि मण्डल ने ज्ञापन के जरिये प्रशासन को चेतावनी दी कि राजस्थान भू-राजस्व अधिनियम 1956 की धारा 91(6)(ख) के तहत सम्बन्धित तहसीलदारों को गोचर भूमियों के संरक्षण करने एवं उन पर किये गये अतिक्रमणों को हटाने के लिए पाबन्द करते हुए 15 दिवस में गोचर, चारागाह, ओरण, नाडी व तालाब भूमि को अतिक्रमण मुक्त करवाने की व्यवस्था करावें अन्यथा महिला कांग्रेस कमेटी के नेतृत्व में सिरोही कलेक्ट्रेट का घेराव किया जायेगा। आवश्यकता हुई तो धरना प्रदर्शन करने एवं आमरण अनशन भी किया जायेगा। जिला कलेक्टर महोदय ने अतिशीघ्र ठोस कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।

Leave a comment