दिल्ली में भाजपा ने लगाया साध्वी प्रज्ञा का पोस्टर, लिखा- अब होगा न्याय

जागरूक टाइम्स 128 Apr 19, 2019

नई दिल्ली (ईएमएस)। दिल्ली में मालेगांव धमाके में आरोपी साध्वी प्रज्ञा की छवि को भुनाने के लिए भाजपा पूरी तरह तैयार है। दिल्ली में भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता तेजेंदर पाल सिंह बग्गा ने साध्वी प्रज्ञा के पोस्टर लगवाए हैं। पोस्टर के साथ लिखा है अब न्याय होगा। पोस्टर में साध्वी की उस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है, जिसमें वो अस्पताल इलाज कराने जा रही हैं। गौरतलब है कि साध्वी को कांग्रेस के दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल से बीजेपी ने प्रत्याशी बनाया है, जिसे लेकर जबर्दस्त सियासी घमासान छिड़ गया है।

भोपाल से साध्वी प्रज्ञा सिंह के बीजेपी प्रत्याशी बनाए जाने के बाद सियासत शुरू हो गई है। बीजेपी अब हिंदुत्व के एजेंडे को भुनाने में जुट गई है। दिल्ली बीजेपी प्रवक्ता तेजेंदर पाल सिंह बग्गा ने दिल्ली बीजेपी दफ्तर के बाहर एक पोस्टर लगाया है, जिसमे साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को बिस्तर पर बीमार हालात में अधलेटे दिखाया गया है, साथ में पोस्टर पर कटाक्ष करते हुए कांग्रेस का नारा 'अब होगा न्याय' लिखा है। श्रीनगर से हैदराबाद तक कोहराम मचा हुआ है।

सवाल पूछे जा रहे हैं कि मालेगांव बम धमाके में आरोपी साध्वी प्रज्ञा को मैदान में उतारकर भाजपा ने ये क्या कर दिया? भाजपा पर उंगलियां उठ रही हैं कि हिन्दुत्व कार्ड खेलने के लिए पार्टी ने आतंकवाद की आरोपी को मोहरा बनाया, लेकिन, इस मुद्दे पर ना तो पार्टी के मन में कोई दुविधा है और ना ही साध्वी प्रज्ञा के मन में। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कांग्रेस पर उत्पीड़न का आरोप लगाया था।

उन्होंने कहा था कि कोर्ट में एनआई ने कहा है कि कोर्ट में उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं है। इसलिए वे निर्दोष हैं। मैं विवादों में कभी नहीं रही। मेरा जो जीवन है बहुत पहले से आप देख रहे हैं कि मेरे ऊपर कोई अंश मात्र का भी आरोप नहीं था। यह जो विवाद खड़ा किया है भगवा आतंकवाद कहा है, हिंदुत्व को आतंकवाद कहा है। यह षड्यंत्र इनका(कांग्रेस) है और इन्होंने ही विवाद खड़ा किया है। इसलिए वे भयभीत हो रहे हैं। भाजपा के साध्वी कार्ड ने कांग्रेस को पसोपेश में डाल दिया है।

हिन्दू आतंकवाद की थ्योरी उछालने पर पार्टी पहले से बैकफुट पर है। ऐसे में पार्टी आक्रामक बयानबाजी कर विवाद खड़ा करने से बचती नजर रही है। खुद भोपाल में प्रज्ञा के सामने खड़े दिग्विजय सिंह बेहद नरम नजर आ रहे हैं। लेकिन, साध्वी को दूसरे तरीके से घेरने की तैयारी चल रही है। तहसीन पूनावाला ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखी है कि आतंकवाद के केस में आरोपी होने की वजह से साध्वी प्रज्ञा को चुनाव लड़ने से रोका जाए।

Leave a comment