वराड़ा का सरकारी अस्पताल बदहाल, फूटा ग्रामीणों का आक्रोश

जागरूक टाइम्स 288 Jun 20, 2018

सिरोही @ जागरूक टाइम्स

जिले के वराडा गांव के सरकारी अस्पताल को ठेके पर देने के बाद बढ़ती अव्यवस्थाओं एवं ग्रामीणों को सुचारू इलाज नहीं मिलने से बुधवार को ग्रामीणों का आक्रोश फूट पड़ा। नाराज ग्रामीणों ने अस्पताल परिसर में प्रदर्शन किया। इस दौरान ग्रामीणों ने पूर्व विधायक संयम लोढ़ा को भी मौके पर बुलाया।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष जीवाराम आर्य के साथ मौके पर पहुंचे पूर्व विधायक संयम लोढ़ा को ग्रामीणों ने बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर मरीजों के पहुंचने पर सफाईकर्मियों के अलावा अन्य चिकित्साकर्मी एवं डॉक्टर उपलब्ध नहीं होते हैं। ऐसे में लोगों को इलाज के लिए अन्यत्र जाना पड़ता है। सड़क दुर्घटना में घायल हुए जितेन्द्रसिंह राजपूत ने बताया कि उसे रोज अस्पताल आने पर पट्टी भी अस्पताल में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से करवानी पड़ रही है।

 इसी तरह प्रसव के लिए महिलाओं को जावाल या सिरोही ले जाना पड़ता है। अस्पताल में दो डॉक्टरों के स्वीकृत पद के बजाय केवल एक ही डॉक्टर कार्यरत है, जो मरीजो को अस्पताल में देखने कि बजाय अपने आवास पर ज्यादा देखते हैं। डॉक्टर द्वारा दवाइयां भी जेनरिक की बजाय ब्रांडेड लीखी जाती है।

सरपंच बसंतादेवी पुरोहित ने अस्पताल में कार्यरत कार्मिकों की उपस्थिति जांचनी चाही तो डॉक्टर ने उपस्थिति पंजिका दिखाने से मना कर दिया। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि समस्याओं के बारे में लगातार उपखण्ड अधिकारी सिरोही, जिला कलेक्टर एवं राज्य मंत्री ओटाराम देवासी को पूर्व मे कही बार मौखिक एवं लिखित रूप से अवतग कराया, लेकिन कोई राहत नही मिली हैं। 

निरस्त हो ठेका : लोढ़ा

ग्रामीणों की समस्या सुनने के बाद पूर्व विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि वराडा के सरकारी अस्पताल की बदहाल स्थिति तभी सही हो सकती, जब ठेका निरस्त कर पुन: इसका संचालन राज्य सरकार की ओर से किया जाएं। अस्पताल को ठेके पर देने से मरीजों को न तो इलाज मिल रहा है और न ही स्वीकृत पद के अनुसार स्टाफ काम कर रहा हैं। उन्होंने पीपीपी मोड से अस्पताल को मुक्त करवाने की आवश्यकता भी जताई।

उन्होंने ग्रामीणों से आग्रह किया कि वे इसके लिए वर्तमान में सरकार के जनप्रतिनिधियों से मिले ताकि वे राज्य सरकार से ठेका अनुबन्ध निरस्त करवाकर लोगों को राहत दे सके। उन्होंने कहा कि अगर ठेका निरस्त नहीं होता है तो लोगों का इसी तरह शोषण व अव्यवस्था का शिकार होना पड़ेगा।

 प्रदर्शन के दौरान ब्लॉक कांगे्रस अध्यक्ष किशोर पुरोहित, जैसाराम पुराहित, भवंरसिंह चौहान, इन्द्र पुरोहित, कानाराम लोहार, गिरधारी पुरोहित, हंसाराम मेघवाल, ओटाराम प्रजापत, शम्भुसिंह सहित सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित थे।

Leave a comment