रंग लाई पुलिस व सोशल मीडिया की मुहिम, गुमशुदा बालिका एक घंटे में परिजनों को सुपुर्द

जागरूक टाइम्स 244 Mar 26, 2019

आबूरोड। शहर पुलिस व सोशल मीडिया की मुहिम के प्रयास मंगलवार को सार्थक हुए। तीन साल की गुमशुदा बालिका एक घंटे में परिजनों को सुपुर्द कर दी गई। अल्पावधि में बच्ची के मिलने से परिजनों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। भरी आंखों से परिजनों ने शहर पुलिस व सोशल मीडिया का आभार जताया। पारसीचाल में रह रहे उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद निवासी नागेंद्र शाक्य कमरे की साफ-सफाई कर रहे थे। इसी दौरान उनका पुत्र व तीन वर्षीय बालिका घर से बाहर निकल गए। पुत्र तो कुछ ही देर बाद लौट आया।

लेकिन, तीन वर्षीय बालिका दिखाई नहीं दी। घबराए परिजनों ने बालिका को ढूंढना शुरू किया। इसी दौरान शहर थाने में तैनात कांस्टेबल ओमप्रकाश को सब्जी मंडी में मासूम बालिका के होने की सूचना मिली। इस पर कांस्टेबल बालिका को थाने ले आए। बालिका को कुछ खाने को दिया। साथ ही उसकी फोटो समेत पोस्ट सोशल मीडिया पर डाल दी। उनके परिजनों को ढूंढने में सहयोग की अपील की। कुछ ही देर में पोस्ट विभिन्न ग्रुपों के माध्यम से व्यापक स्तर पर वॉयरल हो गई। शहर पुलिस व सोशल मीडिया के सामूहिक प्रयास रंग लाए।

करीब एक घंटे की अवधि में मासूम के पिता को सोशल मीडिया के माध्यम से बालिका के कोतवाली में होने की जानकारी मिली। बालिका का पता लगने वह बदहवास कोतवाली पहुंचा। बच्ची को कोतवाली में देखते ही उसकी जान में जान आ गई। पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई के बाद मासूम को उसके पिता को सुपुर्द कर दिया। पुत्री के एक ही घंटे में सकुशल मिलने पर नागेंद्र ने शहर पुलिस व सोशल मीडिया सोशल का आभार जताया।

Leave a comment