केमिकल से भरे टैंकर में लगी आम एक घंटे की मस्कत के बाद पाया काबु

जागरूक टाइम्स 179 Oct 9, 2019
मंडार कस्बे के गुजरात जाने वाले सडक मार्ग पर आजशाम को पांच बजे के बाद एक होटल के पास एकाएक एक ज्वलनशील प्रधार्थ से भरे टैंकर में सोट सरकिट से आग लगने के बाद सडक के दोनो ओर वाहनो की कतारे लग गई होटल संचालक ने बताया की हमारे होटल पर आज शाम को एक टेेकर आकर रूका ओर टेंकर चालक ने चाय पीने के बाद पुर्ण टेकर लेकर रवाना हो रहा था मगर कुछ ही समय में टेकर के आगे वाले हिस्से में आग की लपटे देखने के बाद होटल कर्मचारी ने मोके पर पंहुचकर चालक को वाहन से नीचे उतारा ओर आग के कारण चालक का एक हाथ जल जाने के बाद उसे गुजरात रेफर किया गया।

इधर सुचना मीलने के बाद मंडार थाना अधिकारी छगन डांगी ने मोके पर पंहुचकर मोके पर जमा भीह को हटाने के बाद सभी पेट्रोल पंप को पुरी तरह से बंद करवाने के बाद मोके से सभी कर्मचारी को हटाया गया। हादसे के बाद दुर दुर तक आग के कारण धुआ उठने कें कारण गांव के लोग भी मोके पर जमा होने लगे जिस पर पुलिस ने दोनो तरफ यातायात बंद करवाने के बाद पर फायरबिग्रेड को सुचना दी मगर एक घंटे तक मोके पर नही पंहुचने के कारण पुलिस ने बडे हादसे को देखते हुए मंडार से पानी के टैंकर मंगवाकर आग को बुझाने का प्रयास शुरू किया गया है

मगर टैंकर में गैस भरे होने का डर होने के कारण मंडार थाना अधिकारी छगन डांगी, पाथावाडा थाना अधिकारी एसएस भाटी, कोस्टेबल दिलीप सिंह, हैडकोस्टेबल सोनाराम, विक्रम सिंह, शहजाद भाटी, फजल मोहम्मद, ललीत कुमार टांक, नरभाराम, भगवत सिंह, अजय कुमार टांक, मोन्टु सोनी, कोस्टेबल रणजीत कुमार, नगाराम,हाजी रमजान खां, प्रथवी सिंह, सहित अनेक पुलिस के जवानो ओर ग्रामीणो ने हिम्त जुटाकर पानी के टैंकर के माध्यम से आग बुझाने का प्रयास किया ओर बडी मस्कत के बाद आग को बुझाया गया

टेकर में भरा था अतिज्वलनसील प्रदार्थ
अन्य वाहन चालको ने बताया की इस टैंकर में अतिज्वलनसील प्रघार्थ से भरा हुआ केमीकल था इस कारण इस टैंकर को काफी दुरी पर रखा जाता है ताकि कभी हादसा होने पर आग टंेकी तक नही पंहुच पाये इस कारण आग पर काबु पाने के बाद मोके पर सभी पेट्रोल पंप संचालको ने राहत की सांस ली क्योकि कुछ समय के लिए सभी पेट्रेाल पंप संचालक भी खतरे को देखते हुए मोके से भागते नजर आये।पुलिस की सुझबुझ के कारण बडा हादसा होने से बच गया क्योकि टेकर के अंदर आग लग जाति तो आसपास चार से पांच पेट्रोल पंप होने केकारण बडा हादसा हो सकत था।

Leave a comment