कर्ज में डूबे पति को फाईनेंसरों से सुरक्षा प्रदान करने की मांग, जिला कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

जागरूक टाइम्स 12821 Oct 22, 2019

- कोरे स्टाम्प एवं चैक बरामद करवाने के आदेश जारी करने की भी मांग की

शिवगंज निवासी दरिया देवी ने जिला कलेक्टर सुरेन्द्र कुमार सोलंकी को ज्ञापन सौंपकर कर्ज में डूबे पति को फाईनेंसरों से सुरक्षा प्रदान करने की मांग की है। ज्ञापन में प्रार्थिया दरिया देवी पत्नि राजेन्द्र कुमार जाति सुथार आयु ४५ वर्ष निवासी नेहरू नगर ने बताया कि प्रार्थिया का पति राजेन्द्र कुमार पुत्र कपूरचंद सुथार मिस्त्री है तथा मकान निर्माण का कार्य करता है। पति राजेन्द्र कुमार के ऊपर काफी कर्जा होने से वह मानसिक रूप से ग्रसित है तथा अपना काम भी ठीक से नहीं कर पा रहा है एवं गत काफी समय से काम नहीं मिलने से बेरोजगार है। प्रार्थियां ने आरोप लगाया कि फाईनेंसर आये दिन पति को परेशान करते है एवं बीच रास्ते में रोककर गाली-गलौच कर जान से मारने की धमकियां देते है।

उक्त फाईनेंसर बिना समय देखे चाहे दिन हो या रात घर आकर गाली-गलौच करते है और मारने की धमकियां देते है। प्रार्थियां ने बताया कि उक्त परिस्थितियों से परेशान होकर पति राजेन्द कुमार मानसिक रूप से तनावग्रस्त है और कभी भी आत्महत्या कर सकते है। फाईनेंसरों द्वारा धमकियां दी जाती है कि राजेन्द्र कुमार ने हम फाईनेंसरों को खाली स्टाम्प पर हस्ताक्षर करके एवं खाली चैक हस्ताक्षर करके दिये है, हम मुकदमा करेंगे। प्रार्थियां ने बताया कि उक्त कर्ज पर १० रूपए प्रति सैकडा प्रति माह ब्याज वसूला जाता है तथा समय पर ब्याज नहीं देने पर २० रूपया प्रति माह प्रति सैकडा पेनेल्टी भी वसूल कर रहे है, ऐसे में घर बेचने की नौबत आ गयी है और इस सबके बावजूद भी फाईनेंसरों का दिया कर्जा नहीं चुका पाएंगे।

आय का कोई स्त्रोत नहीं
प्रार्थियां ने बताया कि वर्तमान में आय का कोई स्त्रोत नहीं है जिससे कर्ज का पैसा लौटाने में असमर्थ है। पति को मानसिक रूप से पीडि़त किया जा रहा है जिससे वे कभी भी आत्महत्या कर सकते है। प्रार्थियां दरिया देवी ने मांग की है कि उक्त फाईनेंसरों को पाबंद करे, जिन लोगों द्वारा पति को बहला-फुसलाकर नशे की हालत में कोरे स्टाम्प एवं चैक पर हस्ताक्षर करवा लिये है, उन्हे बरामद करने के आदेश जारी करने, और पति राजेन्द्र कुमार और पूरे परिवार को सुरक्षा के लिए यथाशीघ्र उचित कार्यवाही करे।

Leave a comment