कांग्रेस द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा को बदनाम करने की साजिश - सांसद देवजी पटेल

जागरूक टाइम्स 258 Jun 1, 2020

जालोर सिरोही सांसद देवजी पटेल ने कहा कि कुछ लोग पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के खिलाफ षड्यंत्र रच रहे है, लेकिन वे इसमें सफल नहीं होंगे क्योंकि वे जन-जन की नेता है। वसुन्धरा राजे के खिलाफ इस तरह की जो ओछी राजनीति की जा रही है वो बहुत निम्न स्तर की हरकत है। राजे दो बार मुख्यमंत्री रह चुकी हैं तथा वे झालावाड़ से 5 बार सांसद और 4 बार विधायक रह चुकी है। उनकी जनता में कितनी पैठ और कितनी लोकप्रियता है, वो प्रदेश सहित देश में किसी से छिपी नहीं है।

सांसद पटेल ने बताया कि वैश्विक महामारी कोराना संक्रमण के दौरान वसुन्धरा राजे हमेशा प्रदेश के बूथ स्तर के कार्यकर्ता से लेकर राष्ट्रीय नेतृत्व से जुड़ी हुई हैं। पिछले दिनों अशोक गहलोत द्वारा प्रदेश के सांसदों, विधायकों से विडियों कांफ्रेंस कार्यक्रमण में भी राजे ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई गई थी। जब भी पार्टी या संगठन की राष्ट्रीय या राज्य स्तर की विडियो कान्फ्रेंस होती है तब वसुन्धरा राजे कार्यक्रम में जुड़कर संगठन के पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों सहित कार्यकर्ताओं को मार्गदर्शन करती हैं। सांसद पटेल ने आज जारी अपने व्यक्तव्य में बताया कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के आह्वान पर सोसियल डिस्टनसिंग का पालन करते हुए सम्पूर्ण राजस्थान पर अपनी बारीकी से नजर बनाये रखे हुए है।

सांसद पटेल ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान देश के विभिन्न राज्यों में व्यवसाय/मजदूरी कर रहे राजस्थानी प्रवासियों के गृह राज्य में लाने हेतु जब भी आवश्यकता महसूस हुई तो वसुन्धरा राजे ने सहयोग करते हुए वर्तमान राजस्थान सरकार पर दबाब बनाया, जिससे उन राजस्थानी प्रवासियों को समय पर सुरक्षित एवं सकुशल गृह राज्य में लाने में सफल हुए।

सांसद पटेल ने राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया को जन-जन की प्रिय नेता बताये हुए कहा कि इस कोरोना महामारी के विकट संकट के समय उन्होंने भारतीय जनता पार्टी परिवार के बूथ स्तर से लेकर सभी जनप्रतिनिधियों आम कार्यकर्ता के साथ जिस तरह से व्यक्तिगत संपर्क करके राजस्थान की जनता की चिंता की और राजस्थानी प्रवासी जोकि देश और विदेश में विभिन्न स्थानों पर फँस गए थे उनको लाने के लिए जो सहयोग दिया तथा उन्होंने कोरोना संकट के समय अपने राजनीतिक सूझबूझ का उपयोग करते हुए जिस प्रकार सब को मार्गदर्शन दिया, उसके लिए भारतीय जनता पार्टी परिवार वसुंधरा राजे सिंधिया का बहुत-बहुत आभारी हैं। जिस प्रकार से कांग्रेस के समर्थकों द्वारा झूठी, भ्रामक, ओछी राजनीतिक भ्रांतियां पोस्टर व अखबार के माध्यम से फैलाई जा रही है, ऐसी ओछी राजनीति का पुरजोर विरोध करते हैं।

सांसद देवजी पटेल ने कहा है कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ, वसुन्धरा राजे ऐसे दुष्प्रचार का कई बार सामना कर चुकी हैं लेकिन जनता उनके साथ है। उन्होंने कहा कि ऐसा करना ये पीठ पर वार करने जैसा है। राजनीति में विरोध जायज है पर अपने निजी स्वार्थ के पीछे किसी पर भी छुप-छुप कर वार करना कायरों जैसी हरकत है। कोरोना संकट में ऐसा करना ओछी मानसिकता व घटिया राजनीति हैं। कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के दौर में कुछ राजनीतिक दल अपने कार्यकर्ताओं के जरिये इस प्रकार की घटिया व ओछी राजनीति का प्रदर्शन करवा रहे है जो अत्यंत दुर्भाग्यजनक है और इस प्रकार के कृत्य की जितनी भर्त्सना की जाए वो कम है।

सांसद पटेल ने कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से जहां राजस्थान ही नही अपितु संपूर्ण देश लड़ाई लड़ रहा है वहां प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री के पोस्टर विवाद की ओछी व घटिया राजनीति करने की घोर भर्त्सना करते हुए समस्त राजनीतिक दलों व प्रदेशवासियों से कोरोनो जैसी इस महामारी से कंधे से कंधा मिलाकर लड़ने की अपील की। सांसद पटेल ने राज्य सरकार से इस मानवीय आपदा में इस प्रकार का कृत्य करने वालो को ढूंढ कर उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही किये जाने की मांग रखी।

Leave a comment