बेटियों ने दिया पिता की अर्थी को कांधा

जागरूक टाइम्स 73 May 24, 2018
फालना : पिता की अर्थी को कांधा दिए जब बेटयां सामने से गुजरी तो हर किसी की आंखे नम हो गई। गुजन व रिद्धी ने न केवल पिता की अर्थी को कांधा दिया बल्कि मुखाग्रि देने सहित उनक तमाम कर्मकांडो को पूरा किया जो अब तक सिर्फ बेटे किया करते है। फालना नगर मे रमेश कुमावत पुत्र हीरालाल कुमाावत का लंगी बिमारी के बाद निधन हो गया था । उनका अंतिम संस्कार शनिवार को किया गया। कुमावत डिस्कॉक बाली (बोया)मे कार्यरत थे। रमेश कुमार के दो पुत्रिया है । सभी कर्मकांड बेटियों ने किए शनिवार को उनक ी दोनो पुत्रियों गुंजन व रिद्धी ने उनकी अर्थी को कांधा दिया बाद मे मुखाग्रि दी। जब कुमावत का दाह संस्कार की बात शुरू हुई तो दोनो बेटियां आगे आई और कहा कि हम देगें अपने पिता की अर्थी को कांधा । दोनो ने कहा मुखाग्रि देने सहित दाह संस्कार के सभी कर्मकांड हम ही पूरा करेगें। दोनो बेटियों ने सारे कर्मकांड किए । इसका परिवार के अन्य लोगों ने भी समर्थन किया। इसके बाद दाह संस्कार किया । शव यात्रा मे नगर के गणमान्य नागरिक ,विद्युत विभाग कर्मचारी सहित सैकडों लोग शमिल्लित हुऐ।

Leave a comment