आपसी रंजीष में दो गुट भिडे,गोली चली, दस जने गंभीर घायल अवस्था में पाली रेफर

जागरूक टाइम्स 74 Aug 10, 2019

मारवाड जंक्षन : समीपवर्ती गांव चिरपटीया में देर शाम करीब 6 बजे बावरी चैकीदार समाज के दो गुट आपस में भिड गये,जिससे एक गुट ने दुसरे गुट के एक युवक पर गोली चला दी जिससे उसकी कमर तथा पीठ एवं सिर में गोलीयों के छर्रे लगे, जिसे गम्भिर अवस्था में पाली रेफर किया, षेष अन्यो को भी प्राथमिक उपचार कर पाली रेफर किया गया, वही गोली चलने तथा आपस में धारदार हथियार चलने एवं लाठीयों, गिलोल से एक दुसरे पर हमला कर जानलेवा अवस्था में घायल हो कर गिर पडे,मौके पर चहुं और खुन बिखर गया,एक गुट के नामजद अपराधी पप्पुराम तथा उसके साथी मौके से एक बोलेरो जीप लेकर भाग गये,परन्तु रास्ते में रेवडीया गांव के करीब तेज गति से जीप भेडो से टकरा गई जिससे फरार अपराधी जीप छोड कर जंगल में भाग गये,जिन्हे पकडने के लिये पुलिस ने नाकाबनदी करवाई तथा पिछे भी कई जवान जंगल में तलाष करने गये

परन्तु अंधेरा हो जाने से पकडने में सफल नही हो पाये, पुलिस के थानाप्रभारी गोपाल विश्नोई ने जानकारी देते बताया कि आपसी जमीनी रंजीष तथा अवैध शराब की ब्रांच चलाने के मामले की रंजीष को लेकर डुंगाराम बावरी तथा पप्पुराम बावरी के परिवार में रंजीष है,दोनो एक दुसरे के सगे काका-भतिज लगते है, आज दोनो के परिवार आपास में टकरा गये जिससे गोली चलने पर विक्रम पुत्र डुंगाराम उम्र 20 के छर्रे लगने से गम्भिर घायल हो गया,षेष लोग आपस में धारदार हथियारों तथा लाठीयों एवं गिलाले के हमले में घायल हुए,कुछ बचे हुए फरार हो गये,अभी ठीक से सही संख्या की जानकरी नही है कि कितने जन फरार हुए है,सभी घायलो को जीप तथा 108 में चिकित्सालय पहंुचाया एवं गोली के षिकार विक्रम को सबसे पहले उसकी मां वगैरह निजी वाहन में चिकित्सालय लेकर पहुंचे जिसे पाली रेफर कर दिया गया, उसके पीठ तथा सिर में छर्रे लगे है।

ये हुए घायल : मिश्रीलाल पुत्र रतनाराम उम्र 50 निवासी चिरपटीया, हेमाराम पुत्र शैतानराम 65, श्रवण पुत्र मोहनलाल उम्र 30, शैतानराम पुत्र रतनाराम 40, दुर्गाराम पुत्र उदाराम 20, वचनाराम पुत्र उदाराम 25, शांतिदेवी पत्नि उदाराम 45, उदाराम पुत्र पुनाराम 50, गुणेषराम पुत्र मंदरूप 50, नर्बदा पुत्री गुणेष राम 18 वर्ष इन सभी को घायल अवस्था में 108 तथ्ज्ञा जीप एवं कार में डाल कर पाली रेफर किया गया,घायलो की संख्या बढने से वार्ड भर गये तथा दोनो गुटो के घायलो को भी एक ही वार्ड में एक दुसरे के सामने बेड पर लिटाया गया जिससे चिकित्सलाय में भी तनाव हो गया,तथा जाप्ता तैनात करना पडा।



Leave a comment