घाणेराव : गांव सें 5 किलों मीटर दुर जाना पड़ रहा है श्रमिकों को रोजगार लाने के लिए

जागरूक टाइम्स 148 Jun 1, 2020

घाणेराव । निकटवर्ती आना गांव के श्रमिकों को रोजगार के लिए करीब पॉच किलोमीटर दुर जाना पड़ रहा है। जिसको लेकर सोमवार को श्रमिकों ने राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर विरोध प्रकट करते हुए आना गांव में ही मनरेगा कार्य पर लगाने की मांग की है। आना पंचायत के उपसरपंच कीकाराम चौधरी ने बताया कि रोजगार को लेकर गांव के श्रमिकों ने मनरेगा योजना के तहत पंजियन करवाया था। जिनका मिस्टोल में नाम पंचायत के अधीन सोनाणा गांव के राजस्व भूमि पर नाडी खुदाई कार्य पर आ गया। जो आना गांव से करीब पॉच किलो मीटर दुरी पर स्थित है,ऐसे में श्रमिकों को सुबह पॉच बजे उठकर पैदल चलकर कार्य स्थल घरों से रवाना होना पड़ता है,और दोपहर 1 बजे छुट्टी होने पर तेज धुप में पैदल चलकर आना गांव आना पड़ता है। जिसके कारण श्रमिकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है,ऐसे में सोमवार को आना गांव श्रमिकों ने उनका पंजीयन पॉच किलो मीटर दुर करने पर राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर रोष प्रकट किया। और आना गांव में चल रहे मनरेगा कार्य पर पंजीयन करने की मांग की है,अन्यथा श्रमिकों पंचायत के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जायेगा।


Leave a comment