युवाओं से लेकर वृद्धों ने भी दिखाई मतदान को लेकर जागरूकता

जागरूक टाइम्स 186 Nov 16, 2019

पुलिस कि पेनी नजर, सुरक्षा के साथ निकाय चुनाव हुए सम्पन्न

अब रहेगा परिणाम का इंतजार

पाली। शहरी सरकार बनाने को सवेरे से शहर के वार्डो में शाम तक चहल पहल दिखाई दी, वार्डो में दोनों ही पार्टियों के साथ निर्दलीय भी कसमकस की स्थिति में दिखाई दिए। गली मोह्हलों में से मतदातों को लाने ले जाने के लिए वाहनों की व्यवस्था भी दिखाई दी। शहर के 65 वार्डो में 1 लाख 63 हजार 236 मतदाता है। जिनमे से 78 हजार 919 महिला, 84 हजार 314 पुरुष और थर्ड जेंडर। जिनके लिए 154 बुथ बनाये गए। मतदातो ने बूथों पर आकर अपने मतों का उपयोग किया। शनिवार सवेरे शुरू हुई वोटिंग जो साम 5 बजे तक चली, रिटनिंग अधिकारी रोहितस्वर सिंह भी मॉनिटरिंग करते हुए नजर आ रहे थे, वहीं इन बूथों के बाहर पुलिस का भी जाब्ता नजर आ रह था। जो केन्द्रो पर आवश्यक भीड़ और लोगो पर नजर रखे हुई थी।

मत प्रतिशत में देखा गया उठाव पटक
सवेरे शुरू हुई वोटिंग के वक्त बूथों पर वीरानी नजर आई, लेकिन समय के साथ प्रतिशत भी बढ़ गया। 10 बजे तक 18.53 प्रतिशत मत हुए, 1 बजे तक 39.73, 3 बजे तक 57.26 प्रतिशत, उसके बाद तो ग्राफ बढ़ गया। अंतिम क्षणों में 70.2 प्रतिशत पर जाकर मतदान थम गए। कुल 1 लाख 16 हजार 524 मतदातओं ने मतदान किया, जिसमें से पाली में 10 बजे तक 27647, 1 बजे तक 64853, 3 बजे तक 93443 और 5 बजे तक 114297 मत हुए। इस चुनावी मैदान में युवा से लेकर 100 के पार वृद्ध भी बूथों पर पहुंच अपने मत का उपयोग कर रहे थे। बूथों वृद्धो को वाहनों में बिठा कर ला रहे थे। तो वहां से टॉय सायकल से उन्हें मत करवाया जा रहा था। इस भीड़ में वृद्ध और विकलंगो के लिए विशेष व्यवस्था की गई थी। जिन्हे लाइन में से पहले लाकर मत करवाया जा रहा था। इस दौरान विधि महाविद्यालय में अपनी शादी से पूर्व एक दुल्हा भी अपने मत का महत्व जानते हुए मत डालने पहुंचा। तो दूसरी ओर वृद्ध जनों को देखकर युवाओं में भी जोश का परवान नजर आया।

पुलिस ने भी किया मत करने में वृद्ध जनों का सहयोग
शहर के कही बूथों पर कुछ अलग नजारा देखने को मिला। बूथों पर तैनात पुलिस कर्मियों ने भी वृद्ध जनों को उठा कर मत करवाने में भी मदद की, तो कही पर स्कूल के बच्चो ने भी। परिजन भी वृद्धों को अपने वाहनों पर बिठा कर मत करवाने में लगे थे। केन्द्रो से 100 मीटर की दुरी पार्टीओं ने अपने तम्बू लगा रखे थे। जहा उनकी और से मतदाताओ को उनकी पर्ची दे रहे थे और अपने समर्थन की मनवार करने में लगे थे। दोनों ही पार्टीयों की ओर से अपने केम्पर्स के बाहर जमकर नारेबाजी ओर पेम्पलेट, झण्डे हवाओं में लहरा रहे थे।

स्काउट एवं आंगनबाडी कार्यकर्ता व आशा सहयोगिनों ने निभाई सहभागिता-
शहर के विभिन्न मतदान केन्द्रांे पर आए वृद्ध, दिव्यांग मतदाताओं का स्काउट ने सहयोग किया जिसे मतदाताओं ने अच्छा बताया। इसी तरह महिला मतदाताओं की पहचान व सहायता के लिए भी आंगनबाडी कार्यकर्ता व आशासहयोगिनों ने अपनी सक्रिय भूमिका निभाई।

चुनावी पार्टीयां भी आई सख्त नजर
कुछ स्थानों पर तो उम्मीदवार भी हाथ जोड़ मतदातों से प्रार्थना करते भी दिखे। ऐसा करने से वहां मौजूद अधिकारिओ ने टोका, लेकिन इसकी परवाह किये बिना उम्मीदवार मस्त नजर आये, पुरानी कचहरी में बने बूथ पर एक पार्टी का झंडा दिखा जब निरक्षण करने आये चुनाव प्रवेक्षक ने यह देखा तो मौजूद बीएलओ को जमकर लताड़ भी लगाई। वहीं शहर के बनाए गए 154 बुथों पर पुलिस जाब्ता कड़ी सुरक्षा के साथ नजर आया तो दूसरी ओर निर्वाचन अधिकारी की भी प्रभावी मोनिटरिंग नजर आई। पुुलिस की मोबाईल पार्टीयां और जोनल मजिस्ट्रेट भी इन बुथों पर निरिक्षण करते दिखाई दिए।

पर्यवेक्षक ने किया निरीक्षण-
राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त चुनाव पर्यवेक्षक एवं देव स्थान विभाग के संयुक्त शासन सचिव अजयसिंह राठौड ने विभिन्न मतदान केन्द्र का निरीक्षण कर मतदान प्रक्रिया का जायजा लिया। उन्होंने बांगड स्कूल के मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं से विचार विमर्श किया तथा स्काउट को वृद्धजनों के सहयोग करने के निर्देश दिए। उन्होंने वृद्धजनो के साथ आए परिजनों को केन्द्र मंे नहीं जाने व स्काउट की मद्द लेने की सलाह दी। वहीं महिला मतदाताओं को बच्चों को मतदान केन्द्र में साथ नहीं ले जाने की भी हिदायत दी।

Leave a comment