75 वर्षीय वृद्धा कुएं से तीन दिन बाद जिंदा निकली

जागरूक टाइम्स 347 Jun 26, 2018


तीन दिन पहले घर से बिना बताए निकली थी वृद्धा

महिला ने जातीय पंचों पर लगाए आरोप

सादड़ी। तीन दिन पहले घर से लापता हुई 75 वर्षीय एक वृद्धा कुएं से तीन दिन बाद जीवित निकली है। थानांतर्गत बडौद ग्राम में समाज के पंचों से परेशान होकर एक वृद्धा कुएं में कूद गई। घटना के तीन दिन बाद तक परिजन इधर-उधर महिला को ढूंढ़ते रहे लेकिन वृद्धा का कोई पता नहीं लगा। मंगलवार सवेरे गांव के एक कुएं में लाल रंग की एक चुनड़ी दिखाई दी तो परिजनों ने पुलिस को सूचना दी।

पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों की मदद से खाट से बांधकर वृद्धा को बाहर निकालकर सादड़ी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। एएसआई रणजीत सिंह उदावत ने बताया कि बडौद निवासी फुलकी (75) पत्नी रताराम सीरवी ने अस्पताल में उपचार के दौरान बताया कि उसे व उसके परिवार को तीन साल पहले किसी बात को लेकर समाज के पंचों ने बहिष्कृत किया था।

जिसके बाद कई बार समाज को इकठा किया। लेकिन समाज ने कोई सुनवाई नहीं की। इससे परेशान होकर वह कुएं में कूदी। वृद्धा ने बताया कि वह तीन दिन से कुएं में ही थी। पुलिस ने वृद्धा के बयान पर जांच शुरू कर दी है।

Leave a comment