बारां शहर में झमाझम बारिश, लबालब होकर गांधी सागर छलका

जागरूक टाइम्स 275 Oct 18, 2021

बारां. जिले में रविवार शाम को मौसम ने अचानक से करवट ली और तेज बारिश शुरू हो गई। शहर में शाम को 5 बजे से शुरू हुई बारिश करीब एक घंटा तक चली। झमाझम हुई बारिश से शहर के कई इलाकों में पानी भर गया। रावतभाटा. चंबल नदी पर स्थित सबसे बड़े बांध गांधीसागर के पन बिजलीघर से शनिवार देररात 12 बजे एक टरबाइन चलाकर विद्युत उत्पादन शुरू किया गया और उसके बाद दूसरी टरबाइन भी चला दी गई।

जल संसाधन विभाग के अनुसार, बांध का जलस्तर पूर्ण भराव क्षमता के नजदीक पहुंचने पर पन बिजलीघर से विद्युत उत्पादन शुरू कर दिया गया है और पानी की आवक अभी जारी है। पानी की आवक और अधिक होने पर एक टरबाइन और चलाकर विद्युत उत्पादन शुरू कर दिया जाएगा। गांधी सागर बांध की भराव क्षमता 1312 फीट है। इसका जलस्तर 1311.94 फीट पहुंच चुका है। जिसके चलते तेज हवाएं चलने पर गेटों से पानी छलकने लगा है।

बारां. जिले में रविवार शाम को मौसम ने अचानक से करवट ली और तेज बारिश शुरू हो गई। शहर में शाम को 5 बजे से शुरू हुई बारिश करीब एक घंटा तक चली। झमाझम हुई बारिश से शहर के कई इलाकों में पानी भर गया। इसी तरह से जिले के बामला, छबड़ा, हरनावदाशाहजी, गऊघाट, जलवाड़ा में भी बारिश हुई है। इस बारिश ने किसानों को खासे संकट में डाल दिया है। इन दिनों खेतों के फसल कटी पड़ी है। ऐसे में रविवार को हुई बारिश से इनके भीगने की आशंका बढ़ गई है।

Leave a comment