भाई ने मोबाइल नहीं दिया तो फंदे पर लटकी बहन, मां ने बचा लिया

जागरूक टाइम्स 561 Jun 3, 2019

कोटा(ईएमएस)। बच्चों के हाथ में आया मोबाइल जानलेवा हो रहा है। शहर के कैथूनीपोल इलाके में रविवार को ऐसा ही एक मामला सामने आया है। एक छोटे भाई ने बड़ी बहन को मोबाइल नहीं दिया तो वो नाराज हो गई और मोबाइल लेने लगी तो भाई ने थप्पड़ मार दिया। इसके बाद तनाव में आकर फांसी के फंदे पर जा लटकी। एने वक्त पर मां ने उसे देखा तो बचा लिया। जानकारी के मुताबिक श्रीपुरा स्कूल के पास रहने वाले परिवार में शनिवार देर रात करीब 2 बजे त्योहार चल रहा था। घर पर पिता नहीं थे, मां और भाई-बहन थे।

नाबालिग 14 और 16 वर्षीय भाई-बहन मोबाइल पर गेम खेल रहे थे। छोटे भाई ने बहन को मोबाइल के हाथ लगाने से मना कर दिया। दोनों में बहस हो गई और बहन जैसे ही मोबाइल लेने लगी तो भाई ने चांटा जड़ दिया। इससे बहन तनाव में आ गई कि उसने आव देखा न ताव और सीधे पहली मंजिल पर बने कमरे में चली गई और अंदर से कुंडी लगा ली। दोनों को लड़ता और शोर सुनकर मां उनके पास गई तो पता चला कि बेटी पहली मंजिल पर गई।

मां ने जाकर गेट खोलने को कहा तो बेटी ने न गेट खोला और न कुछ बोली। मां ने जोर-जोर से गेट को धक्के मारे तो कुंडी खुल गई और अंदर का नजारा देख उसके होश फाख्ता हो गए। बेटी छत के कड़े से फंदा लगाकर जान दे रही थी। मां ने उसे उतारा और तुरंत अस्पताल लेकर गई। पिता को बुलाया और उसका इलाज शुरु हो सका। रविवार को बेटी की हालत में सुधार है और अब वो संकट से उभर चुकी है।

कैथूनीपोल सीआई सतवीर सिंह का कहना है कि बालिका फांसी लगाई थी और सूचना हमें एमबीएस से आई थी। पुलिस जाब्ता थाने गया था और रविवार को भी परिजनों से संपर्क किया था। फिलहाल बालिका स्वस्थ है और उसने बयान देने से इनकार कर दिया है। वो जब स्वस्थ हो जाएगी तो उसके बयान ले लेगे। बयान आने के उपरांत ही मैं कुछ बोल सकूंगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


Leave a comment