पेयजल समस्या दूर करने में दोनों सरकारें नाकाम: तिवाड़ी

जागरूक टाइम्स 155 Jul 7, 2018

- घनश्याम तिवाड़ी ने जोधपुर पहुंच पूर्व राजमाता के निधन पर जताया शोक

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

भारत वाहिनी पार्टी के अध्यक्ष व जयपुर सांगानेर विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने कहा कि प्रदेश में पेयजल समस्या दूर करने में दोनों सरकारें नाकाम रही हैं। दोनों दिग्गज पार्टियों ने दस दस साल राज किया। किसी ने कड़ी से कड़ी तो किसी ने लड़ी से लड़ी जोड़ने को कहा। हमने दोनों कर के देखा, फिर भी राजस्थान बीमारू ही रहा। यह बात उन्होंने शनिवार को जोधपुर में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही। वे शनिवार को दोपहर जोधपुर आए और यहां पूर्व राजमाता व पूर्व सांसद कृष्णा कुमारी के निधन पर शोक जताया।

उन्होंने कहा कि राजस्थान की कई समस्याएं हैंं। सबसे बड़ी पेयजल की है, जिसे दूर करने में दोनों सरकारें नाकाम रही हैं। राज्य शिक्षा, चिकित्सा जैसे क्षेत्रों में देश के तय मानकों से काफी पीछे है। वैसे भी हाल ही में नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा है कि राजस्थान जैसे बीमारू राज्यों की वजह से भारत की विकास दर में कमी आ रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा भारत की एकमात्र एेसी निकम्मी और अकर्मण्य सरकार है, जिसने बजट में स्कूल बंद करने की घोषणा की। जब मैं शिक्षा मंत्री था, तो प्रदेश शिक्षा के क्षेत्र में 22वें पायदान से छठे पायदान पर आ गया था। मेरे शिक्षा मंत्री रहते हुए 1 लाख 18 हजार शिक्षकों की नियुक्ति हुई थी। हमने कई कॉलेज खोले, जिससे राजस्थान शिक्षा में अग्रणी हो गया था, लेकिन मेरे जाने के बाद इस बार जब सरकार आई तो बीस हजार प्राइवेट स्कूलों को बंद कर दिया गया। इस सरकार ने बजट में स्कूल बंद करने की घोषणा की, जबकि सब जगह स्कूल खोले जाने की बात कही जाती है। राजस्थान इसीलिए बीमारू राज्य की श्रेणी में है।

भारत वाहिनी पार्टी एक बेहतर विकल्प

चुनाव के बाद भाजपा-कांग्रेस से हाथ मिलाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह चुनाव के परिणामों को लेकर भविष्यवाणी नहीं कर सकते, लेकिन इतना कह सकते हैंं कि भारत वाहिनी पार्टी जनता को एक बेहतर विकल्प उपलब्ध कराएगी। यह पूछने पर कि किरोड़ीलाल मीणा भी बीजेपी में थे तो तिवाड़ी ने साफ किया कि वे अब बीजेपी में है और इसलिए मैं कुछ नहीं कहना चाहता। तिवाड़ी ने कहा कि हमारी पार्टी पूरी तरह सामाजिक समरसता और आर्थिक न्याय के पक्ष में है। इसके तहत हम सभी जातियों को मिले हुए आरक्षण का समर्थन करते है। हमने ब्राह्मण, राजपूत, वैश्य, कायस्थ, ओबीसी से बचे हुए मुस्लिम और सिंधियों के आरक्षण का बिल भी पेश किया है। हम सामाजिक समरसता और आर्थिक न्याय की लड़ाई लड़ते है। हम जाति आधारित लड़ाई के खिलाफ है।

समर्थकों ने किया स्वागत

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी से अलग हुए जयपुर सांगानेर विधायक घनश्याम तिवाड़ी शनिवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे जोधपुर पहुंचे। यहां सर्किट हाउस में पहुंचने के बाद उनका कार्यकर्ताआें और समर्थकों ने फूलमाला पहनाकर स्वागत किया। इसके बाद वे उम्मेद भवन पैलेस गए और यहां पूर्व व पूर्व सांसद राजमाता कृष्णा कुमारी के निधन पर शोक जताया। उन्होंने पूर्व राजघराने के सदस्यों से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी। बता दे कि भाजपा से अलग होने के बाद उन्होंने भारत वाहिनी पार्टी का निर्माण किया है जिनके वे अध्यक्ष भी है।

Leave a comment