एमडीएम अस्पताल में फिर भिड़े रेजिडेंट डॉक्टर और परिजन

जागरूक टाइम्स 479 Aug 30, 2018

- परिजनों ने लगाया इलाज में चिकित्सकीय लापरवाही का आरोप

- डॉक्टरों ने दी हड़ताल पर जाने की चेतावनी

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज से सम्बद्ध मथुरादास माथुर अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में रेजिडेंट डॉक्टर व मरीज के परिजनों के बीच बुधवार देर रात झगड़ा हो गया। बताया गया है कि इस झगड़े में अस्पताल के एक वार्ड कर्मचारी के हाथ में फै्रक्चर हुआ है। बाद में घटना से गुस्साए रेजिडेंट डॉक्टरों ने ट्रोमा सेंटर बंद करवा दिया। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को हिरासत में लिया है। परिजनों ने डॉक्टरों पर चिकित्सकीय लापरवाही का आरोप लगाया है। गुरुवार अलसुबह रेजिडेंट चिकित्सक से भी पूछताछ की गई। इधर, रेजिडेंट डॉक्टरों ने हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है।

यह भी पढ़े : गौरव यात्रा रथ पर पथराव के पांच और आरोपी गिरफ्तार

प्राप्त जानकारी के अनुसार घायल मरीज के उपचार में देरी का आरोप लगाते हुए और न्यूरो के विशेषज्ञ को बुलाने की बात को लेकर मरीज के परिजनों ने एतराज जताया। आरोप है कि घायल के साथ जो लोग आए थे। उन्होंने रेजिडेंट को धमकी दी कि तुम्हें जान से मार दूंगा, इसको लेकर आपस में हाथापाई की नौबत आ गई। इधर, रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉक्टर हरेंद्र भाकर ने बताया कि बुधवार रात करीब सवा दो बजे एक घायल के साथ कुछ लोग आए थे। 

यह भी पढ़े : रेल से कट कर युवक ने दी जान  

घायल को सिर की चोट लगी थी, लोग मांग कर रहे थे कि न्यूरो के विशेषज्ञ को जल्दी बुलाया जाए। ड्यूटी पर मौजूद सीएमओ ने न्यूरो विशेषज्ञ को कॉल कर दिया था, लेकिन उनके आने में देरी हो रही थी। इसलिए घायल के साथ जो लोग आए थे, उन्होंने दबाव बनाया कि पहले जल्दी से जल्दी घायल का इलाज शुरू करें। इस बात को लेकर उन्होंने ड्यूटी पर मौजूद रेजिडेंट डॉक्टर को धमकाना शुरू कर दिया। एक व्यक्ति ने खुद को आर्मी का बड़ा अफसर बताते हुए कहा कि यदि इस घायल को कुछ हो गया तो वह सभी को जान से मार देगा। इसके बाद ट्रोमा सेंटर में माहौल गर्मा गया। 

यह भी पढ़े : 'पति' ने अपने सामने करवाया पत्नी का रेप !!! दोनों आरोपी गिरफ्तार 

इसके बाद कर्मचारी भी उस कथित आर्मी के ऑफिसर से उलझने लगे, माहौल हाथापाई तक पहुंच गया।धक्का मुक्की में अस्पताल के वार्ड कर्मचारी का हाथ फै्रक्चर हो गया। उसके बाद सेंटर में रेजिडेंट डॉक्टर एकत्र हो गए। उन्होंने ट्रोमा सेंटर का काम बंद करवा दिया और आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग करने लगे। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दीपकसिंह पुत्र रणसिंह को शांतिभंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया।

ताज़ा खबरों के लिए हमें फॉलो करे फेसबुक | इंस्टाग्राम  | ट्विटर

Leave a comment