स्कूली छात्रा के अपहरण के आरोपियों का सुराग नहीं

जागरूक टाइम्स 278 Jun 24, 2018

- स्पष्ट नहीं हुआ अपहरण का कारण, पुलिस असमंजस की स्थिति में

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

महानगर के लूणी थाना क्षेत्र में एक स्कूली छात्रा के अपहरण के आरोपियों का रविवार को तीसरे दिन भी कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। अभी तक यह भी स्पष्ट नहीं हो सका है कि छात्रा का अपहरण किसी बदनीयती से किया गया था अथवा किसी रंजिश के चलते यह अपहरण हुआ। पुलिस ने छात्रा और उसके परिजनों से भी पूछताछ की, लेकिन अभी भी असमंजस की स्थिति बनी हुई है।
दरअसल गत शुक्रवार को सुबह रोहिचा कलां गांव में साइकिल से स्कूल जा रही छठी क्लास में पढऩे वाली एक बच्ची को रास्ता पूछने के बहाने दो नकाबपोश बदमाशों ने बोलेरो गाड़ी में अगवा कर लिया था। रोहिचा कलां सिंवरों की ढाणी निवासी पोकरराम ने पुलिस को रिपोर्ट दी थी कि शुक्रवार सुबह उनकी बारह साल की बेटी घर से साइकिल पर स्कूल जाने के लिए निकली थी। रोहिचा कलां स्थित स्कूल पहुंचने से कुछ दूरी पहले तालाब व श्मशान के निकट चौराहे पर एक बोलेरो में सवार दो युवकों ने उससे पता पूछने के बहाने रोका और जबरन साइकिल सहित गाड़ी में डाल अगवा कर लिया। बाद में वे नाबालिग को लेकर रोहिचा खुर्द व पीपरली होते हुए उत्तेसर गांव की तरफ ले गए। उत्तेसर गांव की सरहद पर एक अपहर्ता के मोबाइल पर किसी का फोन आया, तो वह बात करने लगा। इसी दौरान गाड़ी धीमी हुई, तो बच्ची ने उस बदमाश के हाथ पर दांतों से काट खुद का हाथ छुड़ाया और गाड़ी से कूदकर भाग निकली। वहां उसके चिल्लाने की आवाज सुनकर कुछ ग्रामीण उस तरफ दौड़े तो बदमाश साइकिल वहीं छोड़ बोलेरो भगा ले गए। बाद में मासूम उत्तेसर स्थित अपने ननिहाल जा पहुंची और ननिहाल वालों को घटना के बारे में बताया। ननिहाल वालों ने इसकी जानकारी रोहिचा कलां में मासूम के घरवालों को दी। बाद में वे पुलिस के पास पहुंचे।
पुलिस जांच में अभी तक बच्ची के अगवा किए जाने के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस का कहना है कि बच्ची और उसके घरवालों से भी पूछताछ की गई लेकिन स्थित स्पष्ट नहीं हो पाई। हालांकि पुलिस काले रंग की बोलेरो और बदमाशों को ढूंढऩे का प्रयास कर रही है लेकिन उनका कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।

Leave a comment