करगिल के शहीदों को नमन करने निकला बीएसएफ के ऊंटों का काफिला

जागरूक टाइम्स 190 Jul 24, 2019

जोधपुर (ईएमएस)। करगिल युद्ध में पाकिस्तानी सेना को खदेडऩे के बीस वर्ष पूरे होने के अवसर पर बुधवार सुबह जोधपुर में बीएसएफ के राजस्थान फ्रंटियर में शहीदों को नमन किया गया। इस अवसर पर बीएसएफ का विश्व प्रसिद्ध कैमल दस्ता शहर की सड़कों से होकर निकला। सुबह-सुबह एक साथ बड़ी संख्या में रंग-बिरंगे सजे हुए ऊंटों का काफिला देख लोग हैरत में पड़ गए। बाद में इसके साथ चल रहे बीएसएफ जवानों ने जानकारी दी कि करगिल के शहीदों को नमन करने के लिए ऊंटों का यह काफिला निकला है।

यह जान लोगों ने भी करगिल युद्ध में देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों को नमन किया। बीएसएफ के राजस्थान फ्रंटियर के मंडोर रोड स्थित मुख्यालय से आज सुबह सजे हुए ऊंटों पर सवार होकर रौबिले अंदाज में बीएसएफ के जवान बाहर निकले। ऊंटों का यह काफिला मुख्य मार्ग से होता हुआ पावटा स्थित परमवीर मेजर शैतानसिंह सर्किल तक पहुंचा। यहां ऊंटों की परेड देखने लोग उमड़ पड़े। परेड़ के दौरान शहीदों को संगीतमय श्रद्धांजलि दी गई। इस सर्किल से यह काफिला वापस अपने मुख्यालय की तरफ बढ़ गया। फंर्टियर मुख्यालय में आज सुबह आयोजित गरिमामय समारोह में करगिल युद्ध में शहीद हुए भारतीय सैनिकों को नमन किया गया। उल्लेखनीय है कि देश में सिर्फ बीएसएफ के पास ऊंटों का काफिला है। इन ऊंटों पर सवार होकर बीएसएफ के जवान रेगिस्तानी क्षेत्र में सीमा पर चौकसी करते है। गणतंत्र दिवस पर हर साल 26 जनवरी को दिल्ली में होने वाली भव्य परेड में ऊंट बैंड हमेशा आकर्षण का केन्द्र बना रहता है।


Leave a comment