ठेकेदार की हत्या की जांच फोन कॉल्स और सीसी टीवी फुटेज पर अटकी

जागरूक टाइम्स 430 Aug 7, 2018

- दूसरे दिन भी हाथ नहीं लगे हत्या के आरोपी, रामसागर तिराहे पर बंद रहे बाजार

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

मंडोर थाना क्षेत्र में एक ठेकेदार को आग लगाकर जला देने के मामले में पुलिस को दूसरे दिन भी कोई खास सुराग हाथ नहीं लगा। पुलिस की जांच उसके फोन कॉल्स और घटना स्थल के आसपास लगे सीसी टीवी कैमरों के फुटेज पर अटक गई है। मंगलवार को शव का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार कर दिया गया। इधर, इस हत्या के खिलाफ मंगलवार को रामसागर तिराहे पर बाजार बंद रहे।

दरअसल, रामसागर तिराहे के पास रहने वाला तरुण (28) पुत्र राजेंद्रसिंह परिहार सोमवार को सुबह जलती हुई हालत में मिला था। आंगणवा के पास सुनसान जगह पर उसे कुछ लोगों ने जिंदा जला दिया था। वह निर्माणाधीन भवनों में आरसीसी की ठेकेदारी का काम करता था। वह सुबह 9 बजे परिजनों को काम पर जाने का कहकर घर से निकला था। करीब 10 बजे मंडोर-आंगणवा रोड के पास खेतों में काम कर रहे लोग ठेकेदार के चिल्लाने की आवाज सुन भागकर आए। लोगों ने आग बुझाकर पुलिस व 108 को सूचना दी। ठेकेदार को 108 में अस्पताल लेकर गए। जहां डॉक्टर ने जांच कर उसे मृत घोषित कर दिया। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस व फॉरेंसिक टीम ने मौके से साक्ष्य लिए। पुलिस ने मृतक के भाई अनिल परिहार की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज किया था। 


देर शाम लोगों ने हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार करने और सीबीआई से जांच कराने की मांग करते हुए शव उठाने से इनकार कर दिया था। बाद में समझाइश पर वे लोग शव उठाने को तैयार हुए। मंगलवार को तरुण का माली समाज के स्वर्गाश्रम में गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान उसके निवास स्थान रामसागर तिराहे पर आज बाजार बंद रहे। 

पुलिस ने बताया कि तरुण अपने पार्टनर सोनू के साथ ठेकेदारी का काम करता था। तरुण की हादसे से पहले मोबाइल पर आखिरी बार बात सोनू से हुई थी। पुलिस ने संदेह के आधार पर पार्टनर समेत कई लोगों से पूछताछ की, लेकिन कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगा। तरुण के सिर पर चोट का निशान था, संदेह है कि उसके सिर पर हमला कर उसे आग से जला दिया था। सिर पर चोट के कारण वह बचाव नहीं कर पाया।

ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे ...

Leave a comment