50 साल से धोखे से पेंशन उठा रही थी महिला, अब हुआ खुलासा...

जागरूक टाइम्स 531 Aug 5, 2018

- धोखाधड़ी का मामला दर्ज

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

पहली पत्नी व उसके बेटे की मौत के बाद दूसरी पत्नी उनकी पेंशन उठाती रही। पति की पेंशन हासिल करने के लिए तीन बेटों के साथ मिलकर दूसरी पत्नी ने पहली पत्नी के नाम से दस्तावेज तैयार कराए और करीब 50 साल से पेंशन उठाती रही। अब इस मामले की शिकायत सामने आने पर मतोड़ा थाने में केस दर्ज किया गया है। इसकी जांच मतोड़ा थानाधिकारी अमरसिंह कर रहे हैं।

पुलिस ने बताया कि मूलत: जाखण पाटियों की ढाणी हाल जोधपुर बीजेएस कॉलोनी निवासी रणजीतसिंह पुत्र सालमसिंह की ओर से परिवाद पेश किया गया हैै कि जाखण निवासी लखसिंह सेना से सेवानिवृत्त हुए थे। उनकी पहली पत्नी मोहनकंवर का 1955 में निधन हो गया था। उनके निधन होने के बाद उन्होंने वर्ष 1962 में बादल कंवर से दूसरी शादी की थी। इसके बाद पहली पत्नी के बेटे किशन सिंह से बादल कंवर के संबंध अच्छे नहीं रहे, क्योंकि वे उन्हें अपना बेटा नहीं मानती थी। बादल कंवर की तीन संतान राणूसिंह, कालूसिंह व सुमेरसिंह थे। बादल कंवर ने पति और पहली पत्नी के बेटे के निधन के बाद तीनों बेटों के साथ मिलकर जाली दस्तावेज तैयार कर खुद को मोहन कंवर बताते हुए मृत किशनसिंह की पेंशन एसबीआई ओसियां से और बादल कंवर बनकर पति लखसिंह की पेंशन ओसियां हॉस्पिटल रोड एसबीआई की शाखा से उठाती रहीं। परिवाद के अनुसार बादल कंवर ने मोहन कंवर के नाम से मतदाता परिचय पत्र, आधार कार्ड, राशन कार्ड भी बनवा लिए थे जबकि, लखसिंह की मौत के बाद जाखण में स्थित कृषि भूमि खसरा नंबर 922 में अपना म्युटेशन बादल कंवर के नाम से दर्ज कराया। राणूसिंह ने राशन कार्ड में अपनी माता का नाम मोहन कंवर और भामाशाह कार्ड में बादल कंवर बताया है। पुलिस ने इस संबंध में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

Leave a comment