असंगठित श्रमिकों ने की दीपावली पूर्व बोनस भुगतान की मांग

जागरूक टाइम्स 453 Oct 25, 2018

- रैली निकालकर श्रम विभाग पर किया प्रदर्शन 

- क्षेत्रीय संयुक्त श्रम आयुक्त को ज्ञापन सौंपा

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

विभिन्न औद्योगिक प्रतिष्ठानों, सरकारी एवं निजी अस्पतालों तथा सरकारी विभागों में ठेकेदारों के अधीन कार्यरत असंगठित श्रमिकों को बोनस अधिनियम 1965 तथा संशोधित नियम 2007 के तहत बोनस भुगतान की मांग को लेकर राजस्थान ट्रेड यूनियन केन्द्र (आरसीटू) ने श्रम विभाग पर प्रदर्शन कर क्षेत्रीय संयुक्त श्रम आयुक्त सुरेश शर्मा को ज्ञापन सौंपा। इससे पूर्व श्रमिक महावीर उद्यान पर एकत्रित होकर रैली के रूप में श्रम विभाग पहुंचे और मांगों के समर्थन में जमकर नारेबाजी की।

प्रदर्शनकारियों को भारत की मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी यूनाईटेड (एमसीपीआईयू) के प्रदेश सचिव एवं आरसीटू के प्रदेश महामंत्री गोपीकिशन, जिलाध्यक्ष बृजकिशोर, श्रमिक कर्मचारी समन्वय समति के अध्यक्ष मोहन सिंह, जिला सचिव नदीम खान, रमेशनाथ, वहीदुदीन हबीबुर्रहमान, बाबू देवासी, पिजेश नट, दिलीप सिंह, राजाराम, वकीलचंद, डॉ. ओपी पाठक, शेरसिंह, सोहन कडेला, पूनमाराम आदि ने सम्बोधित किया। वक्ताओं ने कहा कि सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र में कार्यरत असंगठित श्रमिक राज्य सरकार की सरमाएदारों की पक्षधर नीति के कारण दोहरे शोषण के शिकार है। वक्ताओं ने कहा कि इस नीति के कारण बोनस अधिनियम 1965 के प्रावधानों का खुलकर उल्लंघन हो रहा है। उद्योगों में वर्षों तक काम करने के बाद भी श्रम कानूनों की अवहेलना के कारण श्रमिक के सर्विस की गारन्टी नहीं रहती और इस बहाने औद्योगिक मालिक असंगठित श्रमिकों को बोनस का हकदार नहीं बताकर बोनस भुगतान नहीं करते। वक्ताओं ने राज्य सरकार की सरमाएदारों की पक्षधर नीति की कड़ी आलोचना की और श्रम विभाग को आड़े हाथों लिया। वक्ताओं ने कहा कि श्रम विभाग अपने दायित्वों का निर्वाह नही कर रहा है, जबकि दीपावली त्यौहार करीब है। वक्ताओं ने फिर मांग दोहराई कि औद्योगिक प्रतिष्ठानों का श्रम विभाग संयुक्त जांच दल बना कर युद्ध स्तर पर तत्काल भौतिक निरीक्षण करे और निरीक्षण के दौरान बोनस भुगतान के बिना हस्ताक्षर शुदा पाये जाने वाले दस्तावेजों को जब्त कर औद्योगिक मालिकों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करे।  

वक्ताओं ने कहा कि असंगठित श्रमिकों को दीपावली के पूर्व बोनस भुगतान नहीं हुआ तो राजस्थान ट्रेड यूनियन केन्द्र (आर सीटू) आन्दोलन को तेज करेगा और बोनस अधिनियम की जानकारी असंगठित मजदूरों को देने के लिए श्रमिक जागरण अभियान को और तेज करेगा। प्रदर्शन के बाद बुलावे पर श्रमिकों का प्रतिनिधि मण्डल क्षेत्रीय संयुक्त श्रम आयुक्त सुरेश शर्मा से मिला तथा खारिया खंगार के बिड़ला व्हाइट सीमेन्ट, मेकशॉट कंपनी बासनी तथा सोमी कन्वेयर तनावडा औद्योगिक क्षेत्र सहित उपरोक्त सभी समस्याओं के समाधान की मांग करते हुए दीपावली पूर्व बोनस भुगतान करवाने की मांग की गई।

Leave a comment