जेएनवीयू में एनएसयूआई व एबीवीपी के बीच कांटे की टक्कर

जागरूक टाइम्स 693 Sep 11, 2018

- जेएनवीयू छात्रसंघ चुनाव: कड़ी सुरक्षा के बीच हुई मतगणना, विजेता प्रत्याशियों ने निकाला जुलूस

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव के लिए मंगलवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतगणना की गई। सुबह करीब ग्यारह बजे शुरू हुई इस मतगणना में दोपहर बाद तक कई सीटों तक परिणाम घोषित कर दिए गए। परिणाम जारी होने के बाद विजेता प्रत्याशियों ने अपने समर्थकों के साथ जुलूस भी निकाला। अपेक्स के पदों के लिए एनएसयूआई व एबीवीपी के बीच कांटे की टक्कर चल रही है। अध्यक्ष पद के लिए नतीजे शाम तक मिलने की उम्मीद है। बता दे कि मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा के कारण जोधपुर संभाग को छोड़ प्रदेश की सभी कॉलेजों में 31 अगस्त को मतदान हो गया था। जोधपुर संभाग में मतदान दस सितम्बर को हुआ। मंगलवार को पूरे प्रदेश में एक साथ मतगणना चल रही है।

मुख्य चुनाव अधिकारी प्रो. अवधेश शर्मा ने बताया कि जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय में सोमवार को मतदान के बाद सभी 41 मतदान बूथों से 245 मतपेटियों को एकत्रित करके एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज में बनाए गए स्ट्रॉन्ग रूम में कड़ी सुरक्षा के बीच रखवाया गया था। यहां आज सुबह 11 बजे मतगणना शुरू हुई। एपेक्स पदों को छोडकर शेष सभी पदों के लिए मतगणना संबंधित संकायों में हुई। कमला नेहरु कॉलेज और सांयकालीन अध्ययन संस्थान के पदों की मतगणना संबंधित संकायों में हुई। कक्षा प्रतिनिधियों के लिए कला, वाणिज्य, इंजीनियरिंग, विधि और विज्ञान संकाय में मतगणना हुई। इससे पूर्व सुबह एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज से 84 मतपेटियों को संबंधित संकायों के लिए रवाना कर दिया गया था। एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज में एपेक्स के चारों पदों के अलावा शोध प्रतिनिधि पद के लिए मतगणना हुई। इसमें एपेक्स पदों की 160 मतपेटियां है और एक मतपेटी शोध प्रतिनिधि की है।

देरावर सिंह सांयकालीन संस्थान के अध्यक्ष निर्वाचित

मतगणना के बाद विवि के सांयकालीन संस्थान का पहला परिणाम घोषित किया गया। इसमें अध्यक्ष पद पर देरावर सिंह ने जीत हासिल की है। सांयकालीन संस्थान उपाध्यक्ष पद पर राघवेंद्र सिंह पहले ही निर्विरोध निर्वाचित हो चुके है। महासचिव पद पर कुलभान सिंह ने महेश चौधरी को 400 वोटों से हरा कर जीत हासिल की है। हालांकि कुलभान सिंह को विवि ने कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है। वहीं शोध प्रतिनिधि पद पर अर्थशास्त्र विषय के शोधार्थी श्रवण कुमार ने बाजी मारी है। एलएलबी तृतीय वर्ष कक्षा प्रतिनिधि के रूप में श्रवण भांबू जीते। श्रवण ने सौरभकांत व्यास और लक्ष्मण सिंह को हराया। एलएलबी के द्वितीय वर्ष के कक्षा प्रतिनिधि का चुनाव सुदर्शन चौधरी ने जीता। सुदर्शन ने रेखा चौधरी और लतिका फिलिप्स को हराया। प्रथम वर्ष के कक्षा प्रतिनिधि का चुनाव इंद्रवीर सिंह ने जीता है। 

छात्रों ने की नारेबाजी व हूटिंग

मतगणना स्थलों के बाहर सुबह से ही प्रत्याशियों के समर्थक छात्र-छात्राओं की जमावड़ा शुरू हो गया था। उनके बीच कई बारे अपने प्रत्याशियों व पार्टियों के समर्थन में नारेबाजी व हूटिंग चलती रही। इस दौरान वहां कई बार छात्र गुट आमने-सामने भी हुए लेकिन पुलिस ने उन्हें वहां से खदेड़ दिया। जीते हुए प्रत्याशी जब मतगणना स्थल से बाहर आए तक उनके समर्थकों ने उन्हें कंधों पर उठा लिया और नारेबाजी करते हुए विजय जुलूस निकाला। इन छात्र-छात्राओं को नियंत्रित करने पर पुलिस को भारी मशक्कत करनी पड़ी।

भारी पुलिस जाब्ता तैनात

छात्रसंघ चुनाव की मतगणना को लेकर पुलिस ने सुरक्षा के खास बंदोबस्त किए। इस दौरान पुलिस के करीब एक हजार अधिकारी व जवान तैनात किए गए। इसमें चार अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त, आठ सहायक पुलिस आयुक्त, सोलह निरीक्षक, पचपन उप निरीक्षक, 46 एएसआई व 824 हैड कांस्टेबल व कांस्टेबल और 49 महिला कांस्टेबल शामिल थे। पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय व यातायात) गगनदीप सिंगला ने बताया कि जेएनवीयू के ओल्ड कैम्पस, न्यू कैम्पस, केएन महिला कॉलेज और एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज के साथ ही जेएनवीयू से संबंध महाविद्यालयों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए। सभी संकायों में पुलिस जाब्ता तैनात रहा। पुलिस आयुक्त, डीसीपी और सहायक पुलिस आयुक्त कार्यालयों में लगे पुलिसकर्मियों को भी ड्यूटी में लगाया गया। इसके साथ ही पुलिस लाइन से 247 जवानों की भी ड्यूटी लगाई गई।

बदबूदार खाना देने का आरोप

मतगणना स्थल एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज में सुरक्षा में तैनात पुलिस कर्मियों ने बदबूदार खान देने का आरोप लगाया। बताया गया है कि यहां पर तैनात पुलिस कर्मियों को दोपहर में खाने के पैकेट दिए गए थे। कर्मचारियों ने जब यह पैकेट खोले तो उसमें से बदबू आ रही थी जिससे इन पुलिस कर्मियों ने खाने का बहिष्कार कर आक्रोश जताया।

दो प्रत्याशियों को कारण बताओ नोटिस

सायंकालीन अध्ययन संस्थान के संस्थान अध्यक्ष पद के प्रत्याशी देरावर सिंह और संस्थान के संस्थान महासचिव पद के प्रत्याशी कुलभान सिंह को विश्वविद्यालय के मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रोफेसर अवधेश शर्मा ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। दोनों प्रत्याशियों के संबंध में निर्वाचन कार्यालय को सोमवार को शिकायत मिली थी कि उन्होंने रविवार देर रात कैंपस में अपने पोस्टर या बैनर चिपका दिए थे। मतदान से हैंड वर्क पहले पोस्टर चिपकाने को लेकर उनसे जवाब मांगा गया।

Leave a comment