सेमीफाइनल पूरा, अब विधानसभा चुनाव में होगा फाइनल

जागरूक टाइम्स 141 Sep 12, 2018

- छात्रसंघ चुनावों ने दिखाया विधानसभा चुनावों का आइना, राजनीतिक हलकों में तेज हुई चर्चा

जोधपुर @ जागरूक  टाइम्स 

प्रदेश में छात्रसंघ चुनाव के रूप में सेमीफाइनल पूरा हो गया है। अब विधानसभा चुनाव के रूप में फाइनल मैच होना बाकी है। मंगलवार को संपन्न हुए छात्रसंघ चुनावों ने विधानसभा चुनावों का आइना दिखा दिया है। छात्रसंघ चुनावों के बाद राजनीतिक गलियारों में विधानसभा चुनावों की चर्चा तेज हो गई है।

दरअसल छात्रसंघ चुनावों को विधानसभा चुनावों से जोड़कर देखा जाता रहा है। छात्रसंघ चुनावों में जिस संगठन के प्रत्याशी की जीत होती है या जिस संगठन का पैनल जीत दर्ज करवाता है तो यह कयास लगा लिया जाता है कि आगामी विधानसभा चुनावों में किस पार्टी की जीत होने वाली है। इसको लेकर छात्रसंघ चुनाव को अखाड़ा बनाकर विभिन्न पार्टियों के नेता और जनप्रतिनिधि भी अपने स्तर पर ताकत झोंककर प्रत्याशियों को जिताने में जुट जाते है। जोधपुर संभाग में जिस प्रकार एबीवीपी ने डंका बजाया है। उससे यही लग रहा है कि केंद्र व राज्य सरकार के प्रति लोगों ने विश्वास जताया है लेकिन जोधपुर में एनएसयूआई के प्रत्याशी की जीत ने फिर सरकार की आंखें खोल दी है। लगातार दूसरे साल एनएसयूआई की जीत से यह कयास लगाए जा रहे है लोगों में कांग्रेस के प्रति रुझान बढ़ रहा है और वे बीजेपी की कार्यप्रणाली से संतुष्ट नहीं है।

लोकप्रियता का आंकलन

इस जीत से नेताओं और जनप्रतिनिधियों की लोकप्रियता का आंकलन भी होने लगा है। एनएसयूआई की जीत से यह साफ हो गया है कि आज भी पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सूर्यनगरी के जनमानस में गहरी छाप छोड़े हुए है। वहीं संभाग के अन्य महाविद्यालयों में एबीवीपी की जीत से संभावना जताई जा रही है कि वहां के भाजपा से जुड़े जनप्रतिनिधियों का दबदबा कायम है। हर बार की तरह जयपुर के राजस्थान विवि में निर्दलीय प्रत्याशी की जीत ने यह बात साफ कर दी है कि जनता में दोनों ही पार्टियों को लेकर रोष है। अब आगामी विधानसभा चुनाव नजदीक ही है। एेसे में यह देखने वाली बात रहेगी कि छात्रसंघ चुनावों से मिलने वाले इन संकेतों से चुनावी पार्टियों को कितना फायदा या नुकसान मिलेगा।

Leave a comment