घांची समाज के लोग सरकार के विरोध में उतरे सड़क पर

जागरूक टाइम्स 490 Aug 31, 2018

- गोपालक घांची समाज ने हक के लिए भरी हुंकार

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों राफेल सौदे में भ्रष्टाचार और नोटबंदी की विफलता के आरोपों से घिरे हुए हैं। वही उनकी ही जाति के लोग शुक्रवार को प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ सड़क पर उतर गए। हजारों घांची महिला-पुरुषों में आक्रोश रैली निकालकर अपनी गोपालन की भूमि के पुन आवंटन की मांग की। 

प्रदेश सरकार ने कुछ महीनों पहले करीब पौने नौ हजार बीघा का यह भूमि सीलिंग एक्ट के तहत अधिग्रहित कर ली थी। नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने पर खुशियां मनाने और दूध सस्ता बेचने वाला घांची समाज आज उनकी ही पार्टी की प्रदेश सरकार के विरोध में खड़ा है। घांची समाज का विरोध सोजत के पास सरदार समंद स्थित 8 हजार 772 बीघा गोपालन भूमि के प्रदेश सरकार द्वारा किए गए अधिग्रहण के विरोध में है। घांची समाज भूमि को अपने गोपालन के लिए आवश्यक मानते हुए पुनः आवंटन की मांग कर रहा है। इस मांग को लेकर जोधपुर घांची समाज ने आज आक्रोश रैली निकाली। जिसमें समाज के हजारों महिला पुरुष शामिल हुए। 

ये महिला पुरुष 'जो हमारा हक छिनेगा-वो सत्ता में नहीं रहेगा', 'गौ माता की बात करने वालों-गौ माता का हक मत छीनो', 'जो गौमाता को बचा न सके-वह सरकार निकम्मी है', 'घांची समाज की है यह पीड़ा-खतरे में है भविष्य हमारा', 'हमारी रोजी-रोटी मत छीनो-सुरवारी की जमीन वापस दो' जैसे नारे लिखे बैनर और तख्तियां हाथों में लिए चल रहे थे। चार-चार लोगों की कतार में चल रही रैली जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर सभा में बदल गई। रैली की लंबाई का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जब रैली का अगला सिरा नई सड़क चौराहे पर पहुंचा तो अंतिम सिरा जालोरी गेट पर ही था। कलेक्टर कार्यालय पर रैली को समाज के प्रमुख लोगों ने संबोधित किया। इसके बाद ताकि समाज के एक प्रतिनिधिमंडल ने अतिरिक्त संभागीय आयुक्त को राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया।

Leave a comment