अब गोल्ड स्मगलरों के निशाने पर जोधपुर

जागरूक टाइम्स 199 Jun 23, 2018

- खनन और भूमि से हटकर अब माफिया और तस्करों की नजरें सोने की स्मगलिंग पर

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

प्रदेश का सबसे शांत कहा जाने वाला जोधपुर शहर अब गोल्ड स्मगलर्स के लिए स्वर्ग बन गया है। इसके कारण विभिन्न केंद्रीय सरकारी एजेंसियों की नजरें खासतौर पर राजस्थान पर केंद्रीत हो गई है। खनन और भूमि से हटकर अब माफियाओं और तस्करों की नजरें सोने की स्मगलिंग पर लगी हुई है। अफीम, हेरोइन एवं कोकीन जैसी मादक पदार्थों से भी ज्यादा लाभकर सोने की स्मगलिंग को माना जा रहा है।

भारत में वर्तमान सबसे ज्यादा स्मगलिंग ऑटो पार्ट्स, शराब, कंप्यूटर हार्डवेयर, मोबाइल, तम्बाकू, फिल्म पायरेसी आदि की जाती है लेकिन सोने की स्मगलिंग ने पिछले कुछ वर्षों में सभी को पछाड़ दिया है। प्रदेश की राजधानी जयपुर के बाद अब जोधपुर में भी सोने के तस्कर लगातार धाक जमाए बैठे हैं। आंकड़ों के अनुसार पिछले एक साल के भीतर करोड़ों रुपए के सोने के आभूषण जयपुर एयरपोर्ट से जब्त हो चुके हैं। इसके अलावा दूसरे एयरपोर्ट पर भी अवैध सोना पकड़ा जा चुका है। आंकड़ों पर नजर डाले तो पिछले एक साल में लगभग सौ किलो से ज्यादा सोना भारत में विभिन्न एयरपोर्ट से जब्त किया गया। बताया गया है कि अधिकांश बचे हुए सोने को बस व निजी वाहनों से जोधपुर लाया जा रहा है।

यहां से आता है सोना

भारतीय सीमा में अधिकांश रूप से सोना दुबई, चीन, अफ्रीका, श्रीलंका, मंगोलिया एवं खाड़ी क्षेत्रों से आ रहा है। दुबई, थाइलैंड, सिंगापुर और श्रीलंका भारत के लिए गोल्ड स्मगलिंग के नवीनतम हॉट स्पॉट केन्द्र बन चुके हैं। दुबई एवं थाइलैंड जाने वाली लगभग हर फ्लाइट में कोई एक गोल्ड स्मगलर यात्रा करता है। बांग्लादेश एवं नेपाल से स्मगलर भारतीय सीमा में दाखिल होते हैं। दुबई में सोना खरीदना एवं उसको बाहर भेजना विधिवत माना जाता है।

एेसे होती है स्मगलिंग

सोने को लैपटॉप, फोन बैटरी के स्थान पर, बेल्ट, जीभ के नीचे कोरियर आदि में छिपाकर लाने के प्रयास किए जा रहे हैं। भारत में कस्टम अधिकारी को चकमा देने के बाद स्मगलर सोने को किसी सहायक के जरिये बेचता है। उस पैसों को हवाला ऑपरेटर, सहायक और स्मगलर बांट लेते हैं। बढ़ती तस्करी के चलते हवाला प्रीमियम भी दोगुना हो गया है। हालांकि श्रीलंका एवं पाकिस्तान से सोने के आभूषणों को लेकर भारत की ओर यात्रा पर कुछ प्रतिबंध लगाए हैं।

जोधपुर में रहती है मांग

जोधपुर में हमेशा से ही सोने की मांग रहती है। यहां महिलाओं को सर्वाधिक सोना पसंद है। सोने को लेकर महिलाओं के साथ ही पुरूष भी क्रेजी है। यहां सोने संपत्ति के रूप में सोने का एकत्रित किया जाता है। शादी के दौरान भी सोने का काफी मात्रा में लेन-देन किया जाता है। सोने को मंगल कार्यों में शुभ माना जाता है। इसलिये यहां इसकी मांग बनी रहती है। कई स्वर्ण व्यवसायी अवैध सोने का लेन-देन करते हैं।

कस्टम अधिकारी रहते हैं चौकन्ने

जोधपुर में सोने की तस्करी को लेकर कस्टम अधिकारी भी हमेशा चौकन्ने रहते हैं। हाल ही में जोधपुर एयरपोर्ट पर कस्टम अधिकारियों ने सोना लाए जाने की सूचना पर विमान यात्रियों और उसके सामान की कई घंटों तक तलाशी ली थी, लेकिन उनके हाथ कुछ नहीं लगा था। कस्टम अधिकारियों का भी मानना है जोधपुर में सोने को चोरी छिपे लाया जा रहा है।

Leave a comment