तूरजी के झालरे में डूबे किशोर की शिनाख्त

जागरूक टाइम्स 201 Jul 23, 2018

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

सदर कोतवाली थाना क्षेत्र स्थित तूरजी का झालरा में डूबने से मरने वाले किशोर की शिनाख्त हो गई है। वह इस झालरे में नहाने उतरा था, लेकिन पानी अधिक होने से वह उसमें डूब गया। पुलिस ने रविवार को पहचान होने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस ने बताया कि शनिवार रात करीब आठ बजे तूरजी का झालरा में एक किशोर नहाने उतरा, लेकिन वह गहरे पानी में चला गया। उसके चिल्लाने की आवाज सुन झालरे के सामने रेस्टोरेंट में बैठी जर्मन महिला और कोरियाई युवक भी पानी में कूद गए। वहीं कुछ गोताखोर युवक भी उसको बचाने झालरे में उतरे। करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद युवक को निकाल लिया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने पहचान नहीं होने पर शव को महात्मा गांधी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया था।
रविवार को उसकी पहचान नागौरी गेट कलाल कॉलोनी गली नंबर सात निवासी कुलदीप (16) पुत्र जुगलकिशोर खटीक के रूप में हुई। उसके पिता की चाय की दुकान है। मृतक के पिता ने पुलिस को बताया कि कुलदीप शनिवार शाम करीब छह बजे काम खत्म कर चला गया था। वह घूमते हुए तूरजी के झालरे पर चला गया और नहाते समय पानी में डूब गया। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।
बता दें कि तूरजी का झालरा में गत सात जून को ही रातानाडा के एयरफोर्स क्वार्टर निवासी वायुसेना में जूनियर वारंट ऑफिसर नवरंगी चौधरी के पुत्र कन्हैया कुमार (22) की भी डूबने से मौत हो गई थी। वह भी दोस्तों के साथ घूमने के लिए झालरा आया था। तैरने के दौरान कन्हैया डूब गया था, जबकि दो दोस्तों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया था। इससे पहले गत वर्ष मार्च में जोधपुर में सेना की मिलिट्री यूनिट सिग्नल कोर में मेजर संजय कुमार साथियों की झालरे में गिरने से पानी में डूबने के कारण मौत हो गई थी।

Leave a comment