पार्किंग को लेकर कई विभागों के आला अफसर हाईकोर्ट में तलब

जागरूक टाइम्स 160 Aug 20, 2018

- 29 अगस्त को अदालत में पेश होने के आदेश

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

शहर में पार्किंग को लेकर कई विभागों के आला अफसरों को राजस्थान हाईकोर्ट ने तलब किया है।राजस्थान हाईकोर्ट की न्यायाधीश जस्टिस निर्मलजीत कौर और दिनेश मेहता की खण्डपीठ ने जोधपुर शहर में पार्किंग समस्या को लेकर दायर जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान डीसीपी ट्रैफिक, नगर निगम आयुक्त, आरटीओ और एसई पीडब्ल्यूडी को 29 अगस्त को अदालत में पेश होने के आदेश दिए हैं।


नरेश कुमार बनाम सरकार मामले की सुनवाई के दौरान एकलपीठ से इस मामले में न्यायमित्र के तौर पर पैरवी कर रहे अनिल जोशी ने कहा कि शहर में 7 सौ से अधिक अवैध बसों का संचालन हो रहा है। ये बसें सड़क पर यहां-वहां खड़ी रहती हैं। इन्हें उठाने के लिए ना तो ट्रैफिक पुलिस के पास उचित क्रेन हैं, ना आरटीओ के पास चैकिंग के लिए स्टाफ हैं।

उन्होंने अदालत में कहा कि ऐसे वाहनों की पार्किंग के लिए जगह भी नहीं है। यही नहीं, शहर भर में वाहन सडकों पर खड़े रहते हैं। नगर निगम व जेडीए पार्किंग उपलब्ध कराने में रुचि नहीं ले रहे हैं। सोजतीगेट के बाहर राजीव गांधी स्मारक के पास एक मल्टी लेवल और अंडरग्राउंड पार्किंग बनाने के नाम पर बरसों से गड्ढा खोद रखा है, लेकिन इसका निर्माण नहीं हो रहा।


यह याचिका पूर्व न्यायाधीश गोपालकृष्ण व्यास की एकलपीठ में करीब सात-आठ वर्ष पूर्व दायर हुई थी। तब शहर में कार बाजार को लेकर सड़कों पर जगह-जगह अतिक्रमण कर यातायात में बाधा डाली जा रही थी। तब जोशी को न्याय मित्र बनाया गया था। उन्होंने आरटीओ, नगर निगम, जेडीए व टै्रफिक पुलिस के साथ शहर की विभिन्न सड़कों पर कार बाजार व अतिक्रमण हटाने के संबंध में रिपोर्ट पेश की थी। जस्टिस व्यास ने सेवानिवृत्ति से पूर्व इस याचिका की जनहित याचिका के तौर पर खंडपीठ में सुनवाई करने की अनुशंसा की थी।

ताज़ा खबरों के लिए हमें फॉलो करे फेसबुक | इंस्टाग्राम  | ट्विटर  


Leave a comment