जोधपुर में एक बार फिर हुई फायरिंग

जागरूक टाइम्स 766 Oct 11, 2018

- सीजरों के खिलाफ शिकायत करने पर युवक पर तलवार से हमला कर किए चार फायर, एक गोली जांघ में लगी

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

प्रदेश का सबसे शांत कहा जाने वाला जोधपुर शहर एक बार फिर फायरिंग से दहल गया है। पिछले साल रंगदारी को लेकर हुई फायरिंग की घटनाओं के बाद अब एक बार फिर यहां फायरिंग हुई है। इस बार फाइनेंस कंपनियों की तरफ से ऋण वसूली करने वाले गुर्गों (सीजर) के खिलाफ शिकायत करने पर एक युवक पर फायरिंग कर उसे जान से मारने की कोशिश की गई। हमलावरों ने उस पर तलवार से हमला कर चार फायर किए। एक गोली जांघ में और दूसरी हाथ व खाक के बीच से छूकर निकल गई। गंभीर रूप से घायल होने पर उसे मथुरादास माथुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमलावरों की तलाश में बोरानाडा थाना पुलिस ने नाकाबंदी करवाई है।

यह भी पढ़े : नवरात्रा पर इंसानियत शर्मसार, तीन साल की मासूम को अगवा कर दुष्कर्म 

पुलिस ने बताया कि फाइनेंस कंपनियों के लिए ऋण वसूली का काम करने वाले कुछ युवकों के एक गिरोह ने तीन दिन पूर्व ऋण वसूली के नाम पर किसी व्यक्ति का ट्रोला उठा लिया। इस पर पाल गांव निवासी राजूराम (27) पुत्र केसाराम देवासी ने समझौते का प्रयास किया लेकिन समझौता नहीं होने पर राजू देवासी ने अपने रिश्तेदार से पुलिस में मामला दर्ज करवाने भेज दिया। इस कारण सीजर गुट के लोग राजू से खफा हो गए। गुरुवार सुबह राजू देवासी डीपीएस चौराहे पर स्थित एक ढाबे पर बैठकर चाय पी रहा था। इस दौरान सीजर गिरोह के कुछ युवक एक वाहन में सवार होकर वहां पहुंचे और उन्होंने राजू को घेर कर उसके साथ मारपीट करना शुरू कर दिया। बचने के लिए राजू वहां से भागा लेकिन थोड़ी दूरी पर हमलावरों ने उसे पकड़ लिया। उन्होंने तलवार से हमला कर उसे जान से मारने का प्रयास किया। 

यह भी पढ़े : जीवित विधवा को बताया प्रपत्र में मृतक, कार्मिकों की कारस्तानी

इसमें विफल रहने पर उन्होंने राजू पर चार फायर किए। इनमें से एक गोली उसकी जांघ में लगी। मौके पर भीड़ जमा होने के कारण हमलावर युवक वहां से भाग निकले। गंभीर रूप से घायल राजू को मथुरादास माथुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जाती है। सूचना मिलने पर सहायक पुलिस आयुक्त सिमरथाराम व बोरानाडा थाना प्रभारी अस्पताल पहुंचे व मामले की जानकारी लेकर हमलावरों की तलाश के प्रयास शुरू किए। फायरिंग करने वालों में दिलीप सिंह आकोरिया, सुरेन्द्र सिंह बापीणी, राजू जाणी आदि बताए गए है। 

यह भी पढ़े : नवरात्रा पर इंसानियत शर्मसार, तीन साल की मासूम को अगवा कर दुष्कर्म 

सूचना मिलने पर सहायक पुलिस आयुक्त सिमरथाराम व बोरानाडा थाना प्रभारी अस्पताल पहुंचे व मामले की जानकारी लेकर हमलावरों की तलाश के प्रयास शुरू किए। फायरिंग के बाद हमलावर काली कार में सांगरिया फांटा की तरफ भाग निकले। पुलिस ने जिले में नाकाबंदी करवाई और गुड़ा विश्नोइयान तक हमलावर का पीछा होता रहा लेकिन इसके बाद वे गायब हो गए जिनकी तलाश की जा रही है।पुलिस का कहना है कि हमलावरों की तलाश की जा रही है।

Leave a comment