ध्वनि विस्तारक यंत्रों की तीव्र ध्वनि व अनियंत्रित उपयोग पर प्रतिबन्ध

जागरूक टाइम्स 389 Oct 9, 2018

- पुलिस आयुक्त ने जोधपुर कमिश्नरेट क्षेत्र के लिए जारी किए आदेश

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

जोधपुर पुलिस कमिश्नरेट क्षेत्र में विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान राजनैतिक दलों के प्रत्याशियों एवं अन्य लोगों द्वारा ध्वनि विस्तारण यंत्रों का तीव्र ध्वनि व अनियमित रूप से उपयोग की संभावना को देखते हुए प्रात: 6 से रात्रि 10 बजे तक ध्वनि विस्तारक यंत्रों का तीव्र ध्वनि एवं अनियमित रूप से प्रयोग पर प्रतिबन्ध रहेगा। पुलिस आयुक्त आलोक वशिष्ठ ने इस सम्बन्ध में आदेश जारी किए हैं।

पुलिस आयुक्त द्वारा जारी आदेशानुसार लोकहित में अनावश्यक शोर शराबे पर समय रहते पाबन्दी लगाई जानी आवश्यक है। उन्होंने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों के अनुसार रात्रि 10 बजे प्रात: 6 बजे ध्वनि विस्तारण यंत्रों जिसमें लाउड स्पीकर एम्पलीफायर, जनरेटर्स एवं भारी शोर वाले पटाखों पर प्रयोग स्थायी रूप से प्रतिबन्धित है। अब प्रात: 6 से रात्रि 10 बजे तक चुनाव प्रचार के दौरान ध्वनि विस्तारक यंत्रों का तीव्र ध्वनि एवं अनियत्रित रूप से प्रयोग को प्रतिबन्धित किया गया है।

पुलिस आयुक्त द्वारा जारी आदेशानुसार राजस्थान कोलाहल नियन्त्रण अधिनियम 1963 की धारा 3 एवं ध्वनि प्रदूषण (नियन्त्रण एवं रोकथाम) नियम 2000 के अधीन निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए यह आदेश पारित किया गया है ताकि महानगर क्षेत्र आयुक्तालय जोधपुर सार्वजनिक एवं अन्य स्थानों जिसमें अस्पताल, शिक्षण संस्थान, वि़द्यालयों, महाविद्यालयों, सरकारी, अद्र्धसरकारी कार्यालयों के आसपास शान्ति वातावरण बना रहे। आदेशानुसार कोई भी व्यक्ति संस्थान धार्मिक, सामाजिक, वैवाहिक, व्यावसायिक, जनहित या निजी मनोरंजन के लिए साउंड एम्पलीफायर, लाउडस्पीकर का उपयोग समक्ष अधिकारी एव संबंधित की पूर्व अनुमति के बिना नहीं करेगा, कोई भी राजनैतिक दल, प्रत्याशी, व्यक्ति एवं संस्थान चुनाव प्रचार, मनोरंजन या व्यवसाय के लिए भी रेडियों, ट्रांजिस्टर, टेपरिकॉर्डर, माईका्रेफोन, स्टीरियों, ग्रामोफोन आदि उपकरण तीव्र ध्वनि से नहीं बजाऐंगे। चुनाव के दौरान राजनैतिक दलों, प्रत्याशियों एवं अन्य व्यक्तियों द्वारा चुनाव के प्रचार के लिए वाहन के द्वारा बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के किसी प्रकार के ध्वनि विस्तारण यंत्रों का उपयोग नहीं होगा। आदेशानुसार बस, सिटीबस, टैम्पों, टेक्सी, ट्रक, कार चालक द्वारा अपने वाहनों को तेज गति बनाये रखने के लिए लम्बी दूरी से लम्बे समय तक एयर कम्प्रेशन हॉर्न आदि की लांग टर्म उपयोग नहीं करेंगे। पुलिस आयुक्त के अनुसार आदेश 15 दिसम्बर या अन्य आदेश होने तक प्रभावशील रहेगा व इसकी अवहेलना करने वाले व्यक्ति, संस्थान या अन्य सम्बद्ध के विरुद्ध राजस्थान कोलाहल नियन्त्रण अधिनियम के तहत कानूनी कार्यवाही अमल में लायी जाएगी व कोलाहल में प्रयुक्त यंत्रों को जब्त कर लिया जाएगा। इन आदेशों की सम्बन्धित पुलिस उपायुक्त, सहायक पुलिस उपायुक्त व थानाधिकारी पालना सुनिश्चित करेंगे।

Leave a comment