फलोदी की पहचान अब सोलर सिटी के नाम से : मुख्यमंत्री

जागरूक टाइम्स 354 Aug 25, 2018

- 37 करोड़ रुपए से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण-शिलान्यास

जोधपुर@ जागरूक टाइम्स

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि राज्य सरकार ने सौर एवं पवन ऊर्जा के क्षेत्र में जोधपुर जिले में ऐतिहासिक काम किया है। उन्होंने कहा कि जोधपुर जिले के जिस फलोदी शहर को अब तक साल्ट सिटी के नाम से पहचाना जाता था, उसे अब भड़ला में सोलर पार्क की स्थापना के बाद सोलर सिटी के नाम से जाना जाएगा।

यह भी पढ़े : दादर-बीकानेर ट्रेन अब प्रतिदिन चलेगी 

मुख्यमंत्री राजे शुक्रवार को फलोदी में करीब 37 करोड़ रुपए से अधिक के विकास कार्यों के लोकार्पण और शिलान्यास के बाद उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि प्रदेश ने सौर और पवन ऊर्जा के क्षेत्र में जो तरक्की की है वह एक रिकॉर्ड है। उन्होंने कहा कि भड़ला में सोलर पार्क स्थापित किए जाने के बाद इस क्षेत्र के विकास को गति मिली है। एक ओर लोगों को रोजगार के अवसर मिले हैं, तो दूसरी ओर पूरे प्रदेश को इसका फायदा मिलने जा रहा है। 

वीडियो देखे : सिरोही - ज़िन्दगी और मौत के बीच जुब्बेदा

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में युवाओं को अन्य क्षेत्रों में भी रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए कई प्रयास किए गए हैं। निजी और सरकारी क्षेत्रों में करीब 17 लाख लोगों को रोजगार के अवसर मिले हैं। वहीं स्वरोजगार के लिए युवाओं को मुद्रा योजना में बड़ी संख्या में लोन स्वीकृत किए गए हैं। राजे ने कहा कि किसानों के हित में पहली बार फसली ऋण माफी का ऐतिहासिक निर्णय लिया गया और किसानों को 50 हजार रूपये तक के फसली ऋण माफ कर राहत दी गई। उन्होंने कहा कि सहकारी बैंकों से फसली ऋण लेने वाले किसानों की दुर्घटना बीमा क्लेम राशि को 50 हजार से 10 लाख रुपए तक बढ़ाया गया है जिससे प्रदेश के किसानों को बड़ी राहत मिली है।

यह भी पढ़े : जालोर में पीएमओ को खिलाफ नारेबाजी 

जोधपुर में हुए अभूतपूर्व विकास कार्य

मुख्यमंत्री ने कहा कि जोधपुर जिले में पिछले साढ़े चार वर्ष में अभूतपूर्व विकास कार्य कराए गए हैं। जोधपुर जिले में विकास कार्यों पर 13 हजार 600 करोड़ रूपये के विकास कार्य स्वीकृत किए गए हैं। वहीं फलोदी विधानसभा क्षेत्र में 2 हजार करोड़ रूपये के विकास कार्य हुए। मुख्यमंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी को श्रृद्धांजलि अर्पित की और कहा कि मारवाड़ से उनका एक महत्वपूर्ण रिश्ता था। उन्होंने यहां परमाणु परीक्षण कर भारत को एक महाशक्ति के रूप में पहचान दिलाई। उन्होंने कहा कि श्री वाजपेयी अटल इरादों वाले प्रधानमंत्री थे जो परमाणु परीक्षणों के बाद अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों के सामने भी नहीं डिगे।

वीडियो देखे  : टोंक - मालपुरा में कांवड़ यात्रा पर हमला

हाइफा के हीरो को याद किया

श्रीमती राजे ने इस अवसर पर मारवाड़ के वीर और हाइफा के हीरो दलपत सिंह को भी याद किया। उन्होंने कहा कि मारवाड़ की वीर भूमि पर जन्म लेने वाले दलपत सिंह ने पहले विश्वयुद्ध के दौरान इजराइल में अपनी बहादुरी से हाइफा शहर की रक्षा की थी। इसके लिए उन्हें मिलिट्री क्रॉस से नवाजा गया। इस अवसर पर केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ, सांसद नारायण पंचारिया, रामनारायण डूडी, मदनलाल सैनी, विधायक पब्बाराम, अशोक परनामी तथा अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारी उपस्थित थे।

ताज़ा खबरों के लिए हमें फॉलो करे फेसबुक | इंस्टाग्राम  | ट्विटर 

Leave a comment