आसाराम की तरफ से पेश की जाएगी सजा के खिलाफ अपील

जागरूक टाइम्स 184 Jun 27, 2018

-जुलाई के पहले सप्ताह तक पेश की जा सकती है अपील

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

अपने ही आश्रम के गुरुकुल की नाबालिग छात्रा के यौन उत्पीडऩ के मामले में ताउम्र जेल में रहने की सजा के खिलाफ अपील करने में आसाराम पूरी सावधानी बरत रहा है। करीब आधा दर्जन स्थानीय वकीलों से हाईकोर्ट में पेश की जाने वाली अपील का ड्राफ्ट तैयार करवा कर आसाराम अब सुप्रीम कोर्ट के नामी वकीलों से उसका फाइनल ड्राफ्ट तैयार करवा रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि जुलाई के पहले सप्ताह तक आसाराम की तरफ से अपनी सजा को चुनौती देने वाली अपील राजस्थान हाईकोर्ट में पेश कर दी जाएगी। 

लोअर कोर्ट से सजा सुनाए जाने के बाद कोई भी व्यक्ति इस सजा को साठ दिन के भीतर हाईकोर्ट में चुनौती दे सकता है। आसाराम को जोधपुर के एससी-एसटी विशेष न्यायालय ने गत 25 अप्रेल को सजा सुनाई थी। ऐसे में यह सजा सुनाए जाने के साठ दिन पूरे हो चुके हैं लेकिन जोधपुर में वकील की 36 दिन तक चली हड़ताल के कारण आसाराम को याचिका पेश करने में इस अवधि से छूट मिल जाएगी।

 बताया जा रहा है कि जुलाई के पहले सप्ताह तक आसाराम की तरफ से हाईकोर्ट में सजा के खिलाफ अपील पेश कर दी जाएगी। इस मामले में आसाराम के अलावा बीस-बीस वर्ष के कारावास की सजा पा चुके आसाराम के सहयोगी शरतचन्द्र और शिल्पी की तरफ से अपनी सजा के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील पेश की जा चुकी है।

अलग-अलग ड्राफ्ट तैयार करवाया

लोअर कोर्ट से दोषी ठहराने के बाद ताउम्र जेल में रहने की सजा मिलने के बाद अब आसाराम अपनी सजा के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील पेश करने में बहुत सावधानी बरत रहा है। आसाराम की तरफ से जोधपुर के छह नामी वकीलों से हाईकोर्ट में पेश की जानी वाली अपील का अलग-अलग ड्राफ्ट तैयार करवाया गया। इन सभी के तैयार ड्राफ्ट को सुप्रीम कोर्ट के एक प्रसिद्ध वकील के पास भेजा गया।

वहां से इन सभी ड्राफ्ट को मिलाकर एक ड्राफ्ट तैयार कर अपील पेश करने के लिए जोधपुर भेजा गया, लेकिन आसाराम को इस पर भी विश्वास नहीं हुआ। इस पर आसाराम ने सुप्रीम कोर्ट के एक अन्य वरिष्ठ वकील के पास वापस भेज उनसे नए सिरे से अपील का ड्राफ्ट तैयार करने को कहा है। यह ड्राफ्ट मिलने के पश्चात जुलाई के पहले सप्ताह तक हाईकोर्ट में अपील पेश कर दी जाएगी।

Leave a comment