जोधपुर में सामने आया तीन तलाक का एक और मामला

जागरूक टाइम्स 88 Nov 7, 2018

- निकाह के बाद एक दिन भी पति के साथ ना रह सकी रूहिना

- ससुराल वालों पर पति की फर्जी गुमशुदगी देने का आरोप, पांच माह से बैठी है पीहर में

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

जिस पिता ने अपने बेटी को खुशी-खुशी घर से निकाह कर विदा किया उसे क्या मालूूम था कि उसके खिलाफ ससुराल वाले पहले से ही षडय़ंत्र रचे हुए है। वह रात भर सुहाग की सेज पर बैठी रही लेकिन पति नहीं आया। पति ने अपने घर वालों के साथ मिलकर ना सिर्फ उदयमंदिर थाने में खुद की फर्जी गुमशुदगी रिपोर्ट दी बल्कि तीन तलाक का कागज भी कुछ दिन बाद थमा दिया। यह मामला शहर की एक मुस्लिम महिला के साथ घटित हुआ है जो पांच माह से पीहर में ही बैठी है। अब उसने अदालत से इस्तगासा कर प्रतापनगर थाने में इसकी रिपोर्ट दी है। मुस्लिम महिला अध्यादेश में दर्ज इस प्रकरण की जांच एसआई मुकनदान की तरफ से की जा रही है। 

दरअसल, चांदणा भाखर के देवी रोड 11 के 444 की रहने वाली रूहिना का निकाह इसी साल 4 जुलाई को मुस्लिम रीति रिवाज से शहजाद खां के साथ हुआ था। पांच जुलाई को पिता अब्दुल सलीम ने रिसेप्शन रखा था। छह जुलाई को रूहिना अपने ससुराल पहुंची। तब रात में उसके ससुराल वालों ने उसे सेज पर भेज दिया और कहा कि जब तक वह ना कहे बाहर मत आना। इस पर रूहिना रात 12 बजे तक सेज पर बैठी रही लेकिन उसका पति शहजाद नहीं आया। उसी रात उसके ससुराल वालों ने मिलकर उसके पति शहजाद की गुमशुदगी की रिपोर्ट उदयमंदिर थाने में दर्ज करवा दी और उसे पति के बाहर होने की जानकारी दे दी। इस मामले में उसके ससुर शेर मोहम्मद, सास हसीना के अलावा चार अन्य लोग शामिल रहे, एेसा रिपोर्ट में बताया गया।

रूहिना ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि निकाह के कुछ दिन बाद ही उसे कोर्ट से एक नोटिस मिला। इसमें तीन तलाक का जिक्र किया गया। उसे ससुराल वालों ने धमकी दी कि तेरे परिवार को एेसा सबक सिखाएंगे कि याद रखेंगे। ससुराल वालों ने खुद को ऊंची रसूखात वाला होना बताया। प्रतापनगर पुलिस ने रूहिना की रिपोर्ट पर मामला दर्ज किया है। अनुसंधान एसआई मुकनदान की तरफ से की जा रही है।

Leave a comment