अमित शाह ने दिया भाजपा कार्यकर्ताओं को दिया एकजुटता का मंत्र

जागरूक टाइम्स 463 Sep 16, 2018

- पाली और जोधपुर का किया एक दिवसीय तूफानी दौरा

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

भाजपा के चाणक्य कहे जाने वाले राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रविवार को जोधपुर संभाग के पाली और जोधपुर जिले में एक दिवसीय तूफानी दौरे पर रहे। उन्होंने पाली में दो और जोधपुर शहर में तीन प्रमुख कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के साथ मसूरिया स्थित बाबा रामदेव रामदेव मंदिर में गुरु बालीनाथ की समाधि के दर्शन किए और पूजा अर्चना भी की।

शाह ने पाली शहर में करीब तीन घंटे तक दो कार्यक्रमों में हिस्सा लिया और इसके बाद जोधपुर शहर में करीब 5 घंटे के प्रवास पर रहे। इन पांच घंटों में उन्होंने तीन कार्यक्रमों को संबोधित किया और भाजपा कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर मजबूती से डटने का मूलमंत्र दिया। शाह का जोधपुर दौरा पूर्ण रूप से कार्यकर्ताओं पर केन्द्रित था। इससे पहले आज सुबह शाह दिल्ली से विशेष विमान से जोधपुर एयरपोर्ट पहुंचे अमित शाह सीधे पाली के लिए प्रस्थान कर गए। पाली में उन्होंने शक्ति केन्द्र को सम्मेलन को संबोधित करने के साथ ही संभाग स्तरीय अन्य पिछड़ा वर्ग सम्मेलन को सम्बोधित किया और उसके बाद पुन: जोधपुर आए। यहां से रैली के रूप में पॉलिटेक्निक कॉलेज स्थित शक्ति केन्द्र संयोजक व इसके ऊपर के कार्यकर्ताओं के संवाद कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इसके बाद उन्होंने पॉलिटेक्निक कॉलेज परिसर में ही संभाग स्तर के युवाओं से युवा सम्मेलन में चर्चा भी की। जहां युवा भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्साह और जोश देखकर प्रसन्नचित भी नजर आए। शक्ति केन्द्र सम्मेलन में पांच बूथों पर एक शक्ति केन्द्र बनाया गया था। इस सम्मेलन में शक्ति केन्द्र संयोजक व इससे वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल हुए, ताकि बूथ मजबूत हो सके। यहां सूची में नाम होने पर ही प्रवेश दिया गया। इसमें बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर जिले के कार्यकर्ता शामिल हुए।

पॉलिटेक्निक कॉलेज में ही आयोजित युवा सम्मेलन में युवाओं पर फोकस किया गया। इसमें 10 हजार युवाओं से एक साथ अमित शाह मुखातिब हुए। इसमें पूरे संभाग के भाजयुमो कार्यकर्ता शामिल हुए ताकि युवाओं के कंधों पर बड़ी जिम्मेदारी दी जा सके। इसके बाद अमित शाह ने मेडिकल कॉलेज सभागार स्थित प्रबुद्धजन सम्मेलन और काव्यांजलि कार्यक्रम में भाग लिया। यहां भी प्रबुद्ध जनों की संख्या देखकर शाह खासे प्रभावित भी हुए और उन्होंने प्रबुद्धजनों से सीधा संवाद भी किया। प्रबुद्धजन सम्मेलन में करीब 1 हजार प्रबुद्धजन शामिल हुए। इस आयोजन से पूरे जोधपुर शहर पर फोकस किया गया। जोधपुर के गणमान्य नागरिकों से शाह ने सीधा सवांद किया, इसके पीछे मकसद प्रबुद्ध लोगों तक सरकार का विजन पहुंचाना रहा। इसके बाद मसूरिया स्थित बाबा रामदेव मंदिर में दर्शन करने के साथ पूजा अर्चना भी की।

शाह ने चखा कचौरी-लड्डू का स्वाद

राजस्थान के चुनाव अभियान को मजबूती देने के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रविवार को मारवाड़ के दौरे के लिए दोपहर करीब बारह बजे विशेष विमान से जोधपुर पहुंचे। जोधपुर एयरपोर्ट पर शाह का केन्द्रीय राज्य मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, बीजेपी जिला अध्यक्ष देवेन्द्र जोशी, महापौर घनश्याम ओझा समेत पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। शाह यहां से पाली के लिए रवाना हुए। विशेष विमान से एयरपोर्ट पहुंचने के बाद अमित शाह ने जोधपुर के भाजपा नेताओं के साथ चर्चा की और उनके साथ नाश्ता भी किया। नाश्ते में अमित शाह ने घी की कचौरी और शहर के प्रसिद्ध लड्डू खाए। शाह एयरपोर्ट से ही सीधे हेलीकॉप्टर के माध्यम से पाली के लिए रवाना हो गए। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह नगर जोधपुर में अमित शाह का यह पहला चुनावी दौरा था।

51 किलो की माला पहनाकर स्वागत

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का वाहन रैली निकालकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। तेज ध्वनि वाले डीजे के साथ शाह के आयोजन स्थल तक रैली निकली गई। इसके साथ ही शक्ति केंद्र सम्मेलन स्थल पर 51 किलो की पुष्प माला पहनाकर स्वागत किया गया। सम्मेलन में भाजपा की ओर से मीडिया को कवरेज करने से रोक दिया गया। सम्मेलन में शाह ने सबसे पहले विजय का संकल्प करवाते हुए भारत माता का उद्घोष करवाया। फिर मंच पर उपस्थित प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी, केंद्रीय राज्यमंत्री गजेंद्रसिंह, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और सांसद ओम माथुर आदि को संबोधित किया। भाजपा कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए भाषण दिया। एयरपोर्ट पर पहुंचने पर भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया था। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने वाहन रैली के साथ अमित शाह को लेकेर पॉलिटेक्निक कॉलेज पहुंचे थे। वाहन रैली के दौरान पुलिस का कड़ी सुरक्षा व्यवस्था थी। 

पुलिस ने नहीं करने दिया पुतला दहन

नगर निगम में सफाई कर्मचारी भर्ती धांधली को लेकर वाल्मीकि समाज के लोग रविवार को कलेक्ट्रेट के बाहर अमित शाह का पुतला दहन करने वाले थे। उस वक्त पुलिस ने वाल्मीकि समाज के प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व करने वाले नरेश कंडारा को गिरफ्तार कर लिया और बाकी लोगों को कैमरा बंदी करके कलेक्ट्रेट के पास ही बैठा दिया। अमित शाह का पुतला पुलिस ने जब्त कर एकांत में भेज दिया। इसके बाद कलेक्ट्रेट परिसर के बाहर महिलाओं ने जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि भाजपा सरकार की नीतियों के खिलाफ आवाज उठाने पर भी रोक लगाई जा रही है। इससे लोगों में रोष और बढऩे लगा है।

Leave a comment