राजफाश : मृतक की पत्नि एवं उसके प्रेमी ने षडयन्त्र रचकर पति की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

जागरूक टाइम्स 1611 Jul 15, 2019

जालोर। थाना थेत्र रामसीन के बोरटा गांव की सरहद में लेदरमेर गांव जाने वाली कच्ची सड़क के पास रविवार को खाई में एक युवक की नग्न अवस्था में रेत में दबी हुई डेड बोडी मिली थी। उक्त अज्ञात युवक की लाश मिलने से ब्लांईड मर्डर की घटना होना पाया गया। पुलिस ने उक्त ब्लांईड मर्डर की घटना की गुत्थी सुलझाने हेतु एवं वारदात को ट्रेस आउट करने हेतु पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टाक के निर्देशन में टीमो का गठन किया गया। गठित टीमो द्वारा अज्ञात लाश की शिनाख्तगी हेतु मृतक के हुलिये के आधार पर बोरटा एवं आस पास के गांवो के ग्रामीणो एवं कस्बा भीनमाल में नागरिको से पुछताछ कर मृतक के फोटो का वाट्सअप एवं सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारण किया गया, जिस पर विश्वसत सूत्रो से पता करने पर पुलिस थाना कोतवाली जालोर में उक्त हुलिये के डुंगरदान पुत्र हरदान चारण निवासी कालेटी नामक युवक के गुम होने की रिपोर्ट शैतानदान चारण निवासी कालेटी द्वारा दर्ज करवाना पाया गया। जिस पर थानाधिकारी कोतवाली बाघसिंह स्टाफ से समन्वय स्थापित कर मृतक के परिजनो से सम्पर्क कर वस्तु स्थिति ज्ञात की गई। डुंगरदान की गुमशुदा रिपोर्ट के साथ राजकीय चिकित्सालय जालोर में 12 जुलाई को वक्त 1 बजे के करीब डुंगरादान चारण निवासी कालेटी को ईलाज हेतु चैक अप करवाने की पर्ची भी पेश की गई।

जिसके आधार पर राजकीय चिकित्सालय जालोर के 12 जुलाई के सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण करने पर मृतक डुंगरदान को एक काले रंग की बोलेरो आरजे 14 युबी 76 12 में राजकीय चिकित्सालय जालोर तक लाना पाया गया। राजकीय चिकित्सालय जालोर में डुंगरदान के साथ उसकी पत्नि रसालकंवर व दो अन्य व्यक्ति साथ थे, रसालकंवर के साथ दिखे व्यक्तियो के बारे में मालुमात करने पर एक शख्स मोहनसिंह पुत्र चौपसिंह राव निवासी पुराना नरता रोड, भीनमाल एवं दुसरा शख्स मांगीलाल पुत्र आशाराम माली निवासी भीनमाल था, विश्वसत् सुत्रो से मालुमात करने पर रसालकंवर से मोहनसिंह राव के अवैध नाजायज सम्बन्ध होने की बात सामने आई। मृतक डुंगरदान की लाश की शिनाख्त उसके निकट परिजन शैतानदान पुत्र संावलदान चारण निवासी कालेटी द्वारा की जाकर हत्या करने सम्बन्धी रिपोर्ट पेश करने पर प्रकरण दर्ज किया गया एवं रामसीन थानाधिकारी अवकाश में होने से एसपी के निर्देशानुसार शाबीर मौहम्मद पुलिस थानाधिकारी भीनमाल द्वारा अनुसंधान आरम्भ किया गया। पुलिस टीमो द्वारा विशेष रूचिपुर्ण अथक प्रयास कर मृतक डुंगरदान की पत्नि रसालकंवर एवं उसके प्रेमी मोहनसिंह पुत्र चौपसिंह राव निवासी पुराना नरता रोड, भीनमाल को दस्तयाब कर गहनता से पुछताछ करने पर अवैध सम्बन्धो में रूकावट बन रहे डुंगरदान की हत्या करने की वारदात को अंजाम देना कबुल किया।

हत्या का मोटिव
मृतक डुंगरदान चारण मुलत: रूप से बागौडा थाना क्षेत्र के कालेटी गांव का निवासी था। वह मजदुरी करने हेतु एवं बच्चो के पढाई हेतु परिवार सहित कस्बा भीनमाल में लक्ष्मी माता मन्दिर के पास किराये के मकान में रह रहा था। भीनमाल में रहने के दोरान मृतक डुंगरदान की पत्नी रसालकंवर की मोहनसिंह पुत्र चौपसिंह राव निवासी पुराना नरता रोड, भीनमाल से दोस्ती हुई, तब मोहनसिंह राव ने रसालकंवर को प्लॉट दिलवाने एवं जिन्दगी भर साथ देने का प्रलोभन दिया, तब रसाल कंवर व मोहनसिंह के आपस में नाजायज अवैध सम्बन्ध स्थापित हो गये। मृतक को स्वयं की पत्नि रसालकंवर के मोहनसिंह राव से अवैध सम्बन्ध होने का पता चला तो उसने विरोध करना शुरू किया। तब रसालकंवर एवं मोहनसिंह राव ने स्वयं के नाजायज सम्बन्धो का आबाद रखने के लिये डुंगरदान को ठिकाने लगाने की योजना बनाई।

रसालकंवर व मोहनसिंह राव ने योजना बनाकर 12 जुलाई को डुंगरदान को ईलाज हेतु बोलेरो जीप में जालोर हॉस्पीटल तक ले गये एवं मौका देखकर मारपीट कर गला घोंटकर हत्या कारित की गई, उसके बाद मोहनसिंह राव व रसालकंवर ने हत्या की घटना को छुपाने के लिये डुंगरदान की डेड बोडी को ठिकाने लगाने हेतु बोलेरो जीप में डालकर बोरटा से लेदरमेर जाने वाले सुनसान कच्चे रास्ते पर ले गये एवं डुंगरदान के शरीर पर पहने हुये कपडे पेंट शर्ट उतार कर नग्न डेड बोडी को खाई में पटक कर बोडी पर मिट्टी(रेत) डालकर दबा दिया गया, जिससे हत्या की वारदात करना पाया गया। प्रकरण का खुलासा किया जाकर मृतक डुंगरदान की लाश का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने के बाद उसके निकट परिजनो को सुपुर्द की जाकर अनुसंधान किया जा रहा है। मुलजिम मोहनसिंह पुत्र चौपसिंह राव निवासी पुराना नरता रोड, भीनमाल एवं मृतक की पत्नि रसालकंवर निवासी कालेटी को पुछताछ कर गिरफ्तार किया गया। ममाले में जांच जारी है।


Leave a comment