सडक दुर्घटना मे बाईक चालक की मौत पर परिजनो ने लगाया ट्रोला चालक पर हत्या का आरोप

जागरूक टाइम्स 83 May 24, 2018
बागोड़ा : सोमवार रात्रि मे दादाल-बागोड़ा मार्ग पर ट्रोला व मोटर साईकिल की दुर्घटना मे बाईक चालक की मौत को लेकर परिजनो ने ट्रोला चालक पर हत्या का ओराप लगाते जिला कलेक्टर के नाम उपखंड अधिकारी रैणू सैनी को ज्ञापन देकर सायला थाना मे दर्ज मुकदमा नम्बर छियानवें मे दुर्घटना की जगह हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की है। ज्ञापन मे श्रीमती चैथीदेवी पत्नी गटाराम व कमला पत्नी मोतीराम जाति मेघवाल निवासी चैनपुरा ने आरोप लगाया है कि मृतक मोतीराम 10 जुलाई को सुबह अपने घर पर बैठा था उस दौरान जुना चैनपुरा निवासी नरसाराम पुत्र कुईयाराम जाति चैधरी अपना जीप ट्रोला नम्बर आर जे 46 जीए 1263 लेकर आया और मोतीराम से कहा कि मेरी टैक्टर ट्रोली पन्चर है उसको ठीक करना है इसलिए मेरे साथ चल। मोतीराम के परिजनो का आरोप है कि मोतीराम उसके साथ न जाकर खुदकी मोटरसाईकिल लेकर उसके पीछे पीछे घर से निकला था जो शाम तक घर नई आने पर इधर उधर खोजबीन की लेकिन कोई जानकारी नही मिली। उसी रात्रि करीब ग्यारह-बारह बजे सुचना मिली की मोतीराम का दादाल-बागोड़ा के बीच एक्सीडेंट हो गया है तक हम परिजन वहा गए लेकिन तब तक उसको सायला अस्पताल ले जाया गया था। वहां पहुचने पर सायला पुलिस थाना मे दुर्घटना की रिपोर्ट दी। उसके पश्चात हमे ज्ञात हुआ कि ट्रोला चालक नरसाराम ने मोतीराम की किसी वजह से हत्या कर दी है। हत्या का अंदेशा इस वजह से है कि मोतीराम घर से निकला उस दौरान पहने कपडे व सायला चिकित्सालय मे पहने हुए न होकर दुसरे थे तथा शरीर पर किसी हथियार या लाठी व लोहे के सरिया के होने का अंदेशा है। जिस जीप ट्रोला से दुर्घटना बताई है उसके सीट पर खुन के निशान है तथा मोटरसाईकिल को दुर्घटना का रूप देने के लिए उक्त ट्रोले के पीछे से बैक मे मारकर क्षतिग्रस्त किया ताकि हत्या को दुर्घटना मे बदला जा सके। नरसाराम के साथ और भी हत्यारे होने की संभावना है। परिजनो व मेघवाल समाज के सैकडो लोगो ने सात दिवस मे इस मामले का खुलासा व हत्या के आरोपियो की गिरफ्तारी नही होने पर धरना प्रदर्शन को लेकर मजबूरी बताई है। ज्ञापन देते समय पूर्व सरपंच गणेशाराम मेघवाल, जिला परिषद सदस्य पुनमाराम मेघवाल समेत आस पास गावो के सैकडो मेघवाल समाज के बुजुर्ग व युवक मौजूद थे।

Leave a comment