स्कूल के पेड पर झूलते मिले युवक का शव, ठेकेदार की बहिन से चल रहा था प्रेम प्रसंग, हत्या करने का आरोप

जागरूक टाइम्स 1042 Jun 4, 2019

बागोडा। डूंगरवा गांव केे सरकारी स्कूल परिसर मे सोमवार सवेरे पेड पर गोविंद उर्फ गोबराराम मेघवाल का शव झूलता मिलने के बाद मामले मे परिजनो ने हत्या का संदेश जताते आरोपियो के विरूद्ध मामला पुलिस थाना मे पंजिबद्ध किया जाने के बाद मौके से यहां लाए शव का दुसरे दिन मेडिकल बोर्ड द्वारा पीएम किया गया तथा पुलिस की मौजूदगी मे शव परिजनो को सुपुर्द किया है।

लुणवा जागीर निवासी गोविंद उर्फ गोबराराम पुत्र छोगाराम मेघवाल का शव डूंगरवा गांव के सरकारी स्कूल मे एक पेड पर झूलता मिलने के बाद परिजनो के पहुचने से पहले शव को पेड से नीचे उतारने से पुलिस पर परिजनो ने नाराजगी व्यक्त करते शव नही उठाने तथा हत्या का मामला दर्ज करने की जिद पर अडे रहने से सोमवार शाम पौने 7 बजे तक शव नही उठाया बाद मे पुलिस व परिजनो के बीच समझाइस होने पर यहां आदर्श राजकीय चिकित्सालय बागोडा लाकर शव को मोचर्री मे रखवाया गया। दुसरे दिन मंगलवार को मेडिकल टीम डाॅ. अरविंद विश्नोई कोरी ध्वैसा, डाॅ. दिनेशकुमार सेवडी व डाॅ. महेश बालेशा धुम्बडिया द्वारा पीएम किया गया। इसके बाद शव परिजनो के हवाले किया गया।

सरकारी अस्पताल मे लोगो की भीड
प्रातः 9 बजे से ही सरकारी अस्पताल परिसर मे पीडित परिजनो के अलावा आस पास गांवो से बडी संख्या मे जाति समूदाय के लोग पहुचे जो दोपहर ढाई बजे बाद शव का पीएम व दाह संस्कार के लिए ले जाने के बाद घरो की ओर रूख किया। इस दौरान पुलिस उप अधीक्षक हुकमाराम विश्नोई, उप निरीक्षक भारत रावत, एएसआई बगडूराम विश्नोई व लुणवा जागीर निवासी पूर्व सरपंच तेजसिह राजपुत, दानाराम चैधरी, सरपंच प्रतिनिधी चैनाराम चैधरी, हरीसिह, हुकमाराम, नरेन्द्र आंजणा समेत बडी संख्या मे लोग मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि उपखंड मुख्यालय से 15 किमी दूर डूंगरवा निवासी चतराराम पुत्र करमीराम जाति मेघवाल के यहां बाडमेर जिला की गुडामालानी तहसील के लुणवा जांगीर निवासी छोगाराम मेघवाल का पुत्र गोविंद उर्फ गोबराराम करीब 4 वर्ष से मजदूरी (कारीगरी) का काम करता था और उसी के पास रहता भी था वह कभी कभी अपने गांव लुणवा जागीर आता जाता था। लेकिन दो दिन पूर्व ठेकेदार चतराराम द्वारा मजदूरी के रूपए नही देने तथा ठेकेदार की बहिन सागर कुमारी से प्रेम प्रसंग होने से विवाह करने की बात अपने पिता छोगाराम को गोविंद ने बताई तथा विवाह मे अडचने पैदा करेगा यह बात कहकर एक दिन पूर्व ही मुझे ठेकेदार ने बुलाया है ऐसा कहकर डूंगरवा के लिए रवाना हो गया था।

लेकिन सोमवार को मुझे व मेरे परिवार को खबर मिली की गोविंद उर्फ गोबराराम ने राजकीय विद्यालय मे पेड पर आत्म हत्या की है, लेकिन मौके पर गए तो देखा की मेरे पुत्र ने आत्म हत्या नही कि बल्कि सागर कुमारी के साथ प्रेम प्रसंग होने से नाराज ठेकेदार चतराराम ने मेरे पुत्र की हत्या कर पेड पर लटका दिया तथा चतराराम के बहनोई धुम्बडिया निवासी वागाराम पुत्र रतनाराम मेघवाल ने भी मिलकर मेरे पुत्र की हत्या की है। पुलिस को शव के जेब से तीन पृष्ठ का सुसाईड नोट भी मिला है जो पुलिस कब्जे मे है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जाॅच शुरू कर दी है।



Leave a comment