किसके सिर पर बंधेगा जीत का सेहरा, देवासी या पटेल

जागरूक टाइम्स 7092 Apr 15, 2019

रामसीन। जालोर- सिरोही लोकसभा सीट पर इन दिनों समूचे प्रदेश की नजर है। यहां भाजपा के मौजूदा सांसद देवजी पटेल और कांग्रेस के पूर्व विधायक रतन देवासी के बीच सीधी टक्कर है और इस बार ये दोनों ही नेता स्थानीय है। अर्थात इन दोनों में कोई भी नेता बाहरी नहीं है। इसलिए यह चुनाव कुछ ज्यादा ही रोचक बन पड़ा है। इन दोनों ही नेताओं की खासियत यह है कि लोकल होने के कारण इनकी स्थानीय लोगों पर अपनी अपनी गहरी पकड़ भी है।

जबकि निर्दलीय और अन्य किसी पार्टियों के कोई नेता यहां ना तो दौड़ में शामिल है और ना ही यहां किसी तीसरे मोर्चे का कोई वजूद है। भारतीय जनता पार्टी के देवजी एम पटेल इसी क्षेत्र से दो बार सांसद रह चुके है और तीसरी बार अपना भागय आजमा रहे है जबकि कांग्रेस के रतन देवासी पूर्व में तीन बार विधानसभा चुनाव लड़े, जिसमें एक बार जीते और दो बार हार का सामना करना पड़ा।

पूर्व में अशोक गहलोत सरकार में उप मुख्य सचेतक रह चुके देवासी वर्तमान में पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे है। इस चुनाव में एक ओर जहां देवजी पटेल अपने पिछले कार्यकाल में किए गए कार्यो को भुनाने के साथ साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम पर दमखम दिखाते हुए जनता जनार्दन से वोट मांग रहे है तो वहीं कांग्रेस प्रत्याशी देवासी हाल ही में राज्य में सत्तारूढ़ हुई कांग्रेस सरकार की ओर से किसानों के माफ किए ऋण और अन्य उपलब्धियों को मतदाताओं के सामने रख कर चुनावी वैतरणी को पार करने की जुगत में जुटे हुए है।

साथ ही मौजूदा सांसद की कार्यशैली पर भी सवालियां निशान लगाते हुए चुनावी माहौल अपने पक्ष में करने में धूंआधार प्रचार कर रहे है। इधर देवजी पटेल को हालांकि कुछ असंतुष्ठों से सामना भी करना पड़ रहा है, मगर पटेल समर्थक और भाजपाई गांव गांव ढ़ाणी ढ़ाणी पीले चावल देकर माहौल अपने पक्ष में करने में जुटे हुए है। जबकि कांग्रेस में भी कुछ असंतुष्ठ होने की संभावनाओ से नकारा नहीं जा सकता।

कुल मिलाकर सिरोही जालोर संसदीय क्षेत्र में इन दिनों पड़ रही भीषण गर्मी के बावजूद चुनावी सरगर्मियां परवान पर है और गर्मी का राजनीतिक माहौल उफान पर है। नतीजतन इस चुनावी गर्मी से बढी तपिश समूचे लोकसभा क्षेत्र को अपनी आगोश में समेट लिया है। चुनाव में कौन जीतेगा और कौन हारेगा तथा किसके सिर पर जीत का सेहरा बंधेगा, यह तो भविष्य के गर्भ में है मगर यहां राजनीतिक पूरे यौवन पर है।

दोनों प्रत्याशियों की समानता
सिरोही जालोर सीट से लोकसभा चुनावी रण में जूंझ रहे दोनों नेताओं में काफी समानता भी है। पहली समानता यह है कि ये दोनों की लोकल अर्थात स्थानीय है। दूसरी खास बात यह है कि ये दोनों ही यहां बड़े समुदाय अर्थात बड़ी जातियों से है। अर्थात इन दोनों की जातियों का एक बड़ा वोट बैंक है।

कौन किसके साथ और कौन नहीं
जालोर सिरोही में लोकसभा चुनाव दिनों दिन रोचक होता जा रहा है। भाजपा के देवजी पटेल केवल नरेन्द्र मोदी के सहारे जीत का सेहरा बांधने की जुगत में है तो कांग्रेस के रतन देवासी के खेमे में सिरोही विधायक संयम लोढ़ा सिरोही में और पूर्व मंत्री अर्जुनसिंह देवड़ा जैसे बड़े नेता जुड़े है। वहीं मौजूदा राज्य सरकार के मंत्री सुखराम विश्नोई भी देवासी के पक्ष में जुटे है।



Leave a comment