सायला : आगजनी की घटना से निपटने के लिए प्रशासन के पास नही है साधन

जागरूक टाइम्स 155 Oct 18, 2020

सायला : उपखण्ड क्षेत्र में अगर इस दीपावली के पावन पर्व पर आगजनी की घटना हो जाये तो आगजनी की घटना से निपटने को संसाधन उपलब्ध नही है। वर्तमान में ऐसी वारदात घटित होने पर जालोर जिला मुख्यालय से ही फायरब्रिगेड पर निर्भर रहना पड़ता है। जबकि क्षेत्र बड़ा होने के कारण वाहन पहुचने तक सब जलकर खाक हो जाता है। वही वर्तमान में दीपावली का पर्व भी नजदीक है और इन हालातो में गांवों में अगर आगजनी की घटनाओं से निपटने के प्रबंध नही होने से हालात विकट हो सकते है। वही घटना अगर घटित हो जाए और ऐसे में आग विकराल रूप धारण कर भारी नुकसान कर सकती है। उपखण्ड मुख्यालय पिछले लंबे समय से दमकल वाहन के अभाव का दंश झेल रहा है। यहाँ दमकल वाहन की सुविधा नही होने के कारण क्षेत्र में आगजनी की वारदात घटित होने पर पुलिस व ग्रामीणों को आग पर शीघ्र काबू पाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

जिला मुख्यालय से आता है वाहन
मुख्यालय पर दमकल वाहन की सुविधा उपलब्ध नही होने के कारण क्षेत्र में आगजनी की वारदातें घटित होने पर पुलिस, प्रशासन व ग्रामीणों को जिला मुख्यालय जालोर से दमकल वाहन बुलाना पड़ता है। जालोर से दमकल पहुचने में अधिक समय लग जाता है तब तक आग से नुकसान हो जाता है। वही वाहन की सुविधा नही होने के कारण ग्रामीण अपने संसाधनों से आग पर शीघ्र काबू नही पा सकते है। वही मुख्यालय पर दमकल वाहन की मांग पिछले लंबे समय से है लेकिन प्रशासन द्वारा इस ओर कोई ध्यान नही दिया जा रहा है। जिसका खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है। वही गौरतलब है कि दीपावली पर्व के दौरान कस्बे समेत क्षेत्रभर में लोग आतिशबाजी करेंगे। ऐसे में पटाखो के कारण आगजनी जैसी घटना से इंकार नही किया जा सकता। और अगर आगजनी हो जाये तो दमकल की सुविधा नही होने का कारण आगजनी की स्थिती में भारी नुकसान की पूर्ण आशंका है।

विधायक ने की थी घोषणा
विधानसभा चुनाव के बाद जालोर विधानसभा क्षेत्र की पूर्व विधायक अमृता मेघवाल की ओर से 15 अगस्त 2014 पर स्वतन्त्रता दिवस के कार्यक्रम में आने पर 20 मई 2014 को जैन मंदिर के पास ट्रक में आग लगने का कारण नुकसान हुआ था जिसको नजर में रखते हुए पूर्व विधायक मेघवाल ने ग्रामीणों को क्षेत्र में आगजनी की घटनाओं पर अंकुश लगाने को लेकर एक दमकल वाहन की घोषणा की गई थी जो घोषणा अभी तक साकार नही हो पाई है तथा मुख्यालय को एक दमकल तक नही मिल पाई।

इनका कहना
क्षेत्र में आगजनी की घटना हो जाये तो स्थानीय प्रशासन के पास आग पर काबू पाने के लिए कोई साधन नहीं है । इसको लेकर आगे सरकार से मांग की जाएगी। सुल्तान खान भाटी समाजसेवी तथा गांधी जीवन दर्शन समिति ब्लॉक अध्यक्ष सायला।




Leave a comment