बाजरा की न्यूनतम सर्मथन मूल्य पर खरीद की जायें - पटेल

जागरूक टाइम्स 305 Oct 17, 2020

रानीवाड़ा। जालोर-सिरोही सांसद देवजी पटेल ने शनिवार को कृषि मंत्री भारत सरकार नई दिल्ली से दूरभाष पर वार्ता कर राजस्थान प्रदेश की प्रमुख फसल बाजरा की न्यूनतम सर्मथन मूल्य पर खरीदकर ने का अनुरोध किया। केन्द्रीय कृषि मंत्री ने सांसद पटेल को बताया कि राज्य सरकार अगर बाजरा की न्यूनतम सर्मथन मूल्य पर खरीद करने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजे तो स्वीकृति दे दी जाएगी। पटेल ने इस संबंध में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अवगत करवाया कि प्रदेश की प्रमुख फसल बाजरा की न्यूनतम सर्मथन मूल्य पर खरीद करने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजने का भी आग्रह किया। पटेल ने बताया कि राजस्थान प्रदेश में बाजरे की सबसे ज्यादा पैदावार होती है, लेकिन उसकी समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए एक भी सेंटर नहीं खोला गया।

इस बार प्रदेश में लगभग 40 लाख हेक्टेयर में बुआई की गई थी। कृषि विभाग के अनुसार प्रति हेक्टेयर 1107 किलो का उत्पादन है। केन्द्र सरकार ने बाजरे का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाकर 2,150 रुपए प्रति किंवटल तय कर दिया है, लेकिन प्रदेश में इसकी सरकारी खरीद नहीं होने से किसानों को बाजार में 1200-1400 रुपए क्विंटल के भाव से बेचनी पड़ रही है। इससे किसानों को करोड़ों रुपए का नुकसान हो रहा। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा अधिसूचित फसलें, जिनका समर्थन मूल्य घोषित किया जाता है। उन फसलों का तय समर्थन मूल्य से नीचे बाजार भाव होने की स्थिति में प्रधानमंत्री अन्नदाता आय संरक्षण अभियान योजना के तहत फसल उत्पादन की 25 प्रतिशत फसल खरीद के प्रावधान है। किसानों की आय दोगुनी करने व आत्मनिर्भर बनाने पर सरकार का जोर है, लेकिन राजस्थान की प्रमुख फसल बाजरा की प्रदेश में ही सरकारी खरीद नहीं हो रही है। इससे किसानों को करोड़ों रुपए का नुकसान हो रहा, आज कोरोना काल में किसानों की कमर टूटी हुई है।


प्रदेश के सभी जिलों की बुआई - जालोर-सिरोही सांसद देवजी पटेल ने बताया कि प्रदेश के लगभग सभी जिलों में (जालोर 2.80 लाख, सिरोही 10 हजार, अजमेर 60 हजार, जयपुर 2 .70 लाख, दौसा 1.30 लाख, टोंक 40 हजार, सीकर 2.55 लाख, झुंझुनूं 1.95 लाख, नागौर 3.10 लाख, अलवर 2.60 लाख, भरतपुर 1.20 लाख, धौलपुर 90 हजार, सवाईमाधोपुर 6000, करौली 1.20 लाख, बीकानेर 1 लाख, चूरू 2.60 लाख, जैसलमेर 1.15 लाख, श्रीगंगानगर 7000, हनुमानगढ़ 4000, बाड़मेर 7.80 लाख, जोधपुर 4.10 लाख, पाली 35 हजार, कोटा संभाग 3000) बाजरे की बुआई हुई। सरकार को मूंग, मूंगफली के साथ बाजरे की खरीद शुरू करनी चाहिए। सांसद पटेल ने मुख्यमंत्री से प्रदेश की प्रमुख फसल बाजरा की न्यूनतम सर्मथन मूल्य पर खरीद करने का प्रस्ताव जल्द से जल्द केन्द्र सरकार को भिजवाने का आग्रह किया।

Leave a comment