अन्तर्राज्य वाहन चोर, एटीएम लूट एवं हथियार तस्करी गिरोह का जालोर पुलिस ने किया खुलासा

जागरूक टाइम्स 382 Jun 18, 2019

-गिरफ्तार आरोपियों से हथियार भी बरामद

जालोर। थाना क्षेत्र कोतवाली के सांफाडा रोड़ पर १४ जून को एक व्यक्ति पर किए गए जानलेवा हमले व लूट की वारदात में पुलिस ने घटना का खुलासा करते हुए दो आरोपियों सहित उनके द्वारा उपयोग में लिए गए हथियारों को बरामद करने में सफलता हासिल की है। मंगलवार को मीडिया से बातचीत करते हुए एसपी केसरसिंह शेखावत ने बताया कि १४ जून को निशार खांन पुत्र उस्मान खान जाति मुसलमान निवासी कोलर द्वारा कोतवाली थाने में रिपोर्ट पेश कर बताया कि मैं मेरी बोलेरो गाडी लेकर कोलर की ओर जा रहा था, रास्ते में केशवना मार्ग पर बिना नम्बर की बोलेरो केम्पर गाडी मेरी गाडी के आगे लगाकर टक्कर मारकर मेरी गाडी को रूकवाया एवं एक व्यक्ति ने फायर कर मेरे से रूपए लूट लिए। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर विशेष टीम का गठन कर मामले का खुलासा करते हुए दो आरोपियों मुकेश कुमार तथा नरेश गर्ग को गिरफ्तार किया। इस विशेष टीम में बाघसिंह थानाधिकारी कोतवाली, भवानीसिह निरीक्षक पुलिस, बाबूलाल हैड कान्स्टेबल, मुरीद खां कान्स्टेबल, बरकत खा हैड कान्स्टेबल, विरेन्द्रप्रताप. बिशनसिंह हैड कानि, अरूण कुमार कानि, विक्रमसिंह कानि, शामिल थे।

जालोर टीम द्वारा किये गये प्रयास
पुलिस अधीक्षक जालोर के निर्देशन में टीम में विशेष सतर्कता बरतते हुए सूचना के आधार पर एक बोलेरो केम्पर से मुकेश कुमार पुत्र भगताराम जाति सीरवी निवासी किशनपुरा पुलिस थाना रानी जिला पाली को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से एक अवैध पिस्टल व 3 राउण्ड बरामद किये। मुलजिम मुकेश कुमार से गहन पूछताछ कर उसकी सूचना के आधार पर नरेश गर्ग उप मेणाराम पुत्र लाखाराम उर्फ मोहनलाल जाति गर्ग निवासी मोरसीम को गिरफ्तार कर उसको कब्जे से एक पिस्टल व 3 राउण्ड बरामद किये गये एवं दोनों आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर अन्य पारदातों का खुलासा किया गया। साथ ही पुलिस ने बदमाशों से दो पिस्टल, ६ जिन्दा राउण्ड, दो चोरी की बोलेरो केम्पर बरामद किए।

इस तरह दिया वारदात को अंजाम
अभियुक्त मुकेश कुमार का एक चाकुबाजी के प्रकरण में जेल में जाना फिर जेल से छूटने पर सहयोगी ओमकार सिंह के माध्यम से हथियार के धंधे में लिप्त होना। उसके बाद हथियार सहित पकड़े जाने पर पुन: जेल में जाना। जेल से बाहर आकर ओमकारसिंह के माध्यम से मुलजिम नरेश गर्ग के सम्पर्क में आया व वाहन चोरी कर एटीएम लूटने की वारदातें करना, आरोपी नरेश कुमार एक खिडकी व टे्रक्टर चोरी के मामले में जेल जाकर भागीरथ माली के सम्पर्क में आया तथा भागीरथ माली के साथ पाली, बाड़मेर, डीसा आदि स्थानों से वाहन चोरी कर बेचना तथा पुन पकड़ा गया जहां से जेल भेज दिया गया। जहां वह अरविन्द सिंह बीका के सम्पर्क में आया व डीसा जेल तोडकर केरल में लूट की वारदात के प्रयास में पकड़ा गया जहां से पुन जेल भेज दिया गया। जेल से मुकेश कुमार के सम्पर्क में आया।तथा मुकेश कुमार के साथ वाहन चोरी , एटीएम लूट की वारदातें करना शुरू किया। अपने ही गांव के एक व्यक्ति पर पुलिस की मुखबिरी करने का शक होने पर उसकी हत्या करने का प्लान बनाया, परन्तु पुलिस द्वारा समय रहते गिरफ्तार करने से उक्त घटना को अंजाम देने में सफल नहीं हुआ।

गिरफ्तार अभियुक्तों द्वारा स्वीकार की गई वारदातें
गिरफ्तार अभियुक्तों ने चोरी की अन्य वारदातों को स्वीकार किया। जिसमें अहमदाबाद से इको गाड़ी, पनवेल , मुम्बई से तीन बोलेरो केम्पर, पनवेल, मुम्बई से एक होण्डा सिटी कार, डीसा, गुजरात से एक इको गाड़ी चोरी, सिरोही से एक बोलेरो केम्पर चोरी करना। वहीं सिरोही जिले के रेवदर में एटीएम लूट लूटते समय एटीएम में आग लगना। वापी व सिलवासा के बीच दो एटीएम तोडना। पालनपुर से हिम्मतनगर के बीच एटीएम तोड़कर बाहर निकालना व गाड़ी में नहीं आने से छोड़कर भाग जाना। मध्यप्रदेश से हथियार खरीद कर लाना, एक पिस्टल मय तीन जिन्दा राउण्ड आरोपी नरेश गर्ग से बरामद। एक पिस्टल मय तीन जिन्दा राउण्ड आरोपी मुकेश कुमार से बरामद। एक पिस्टल जिला सिरोही में बेचना आदि की वारदातें स्वीकार की है।

Leave a comment