नकली नोट छपाई गिरोह के तार जालोर से जुड़े, नकली नोट व उपकरण जब्त

जागरूक टाइम्स 1376 Jun 29, 2018

जालोर @ जागरूक टाइम्स

जालोर शहर के सरावास स्थित एक रहवासीय कॉम्पलेक्स में पाली सदर थाने की ओर से नकली नोट छापने के मामले में छापामार कार्रवाई की गई है। हालांकि सुबह तक इसको लेकर अफवाहों का बाजार गर्म रहा, लेकिन बाद में पुलिस ने भी इसकी पुष्टि कर दी। बताया जा रहा है कि पुलिस को कार्रवाई के दौरान इस कॉम्पलेक्स से नकली नोट छापने के उपकरण व अन्य सामग्री मिली है। साथ ही बड़ी तादाद में नकली नोट भी बरामद किए गए हैं। हालांकि इस मामले में पाली सदर पुलिस कार्रवाई कर रही है, लेकिन प्रारंभिक तौर से इस पूरे मामले के तार सादड़ी से जुड़े है।

दरअसल, इस मामले में पुलिस ने सादड़ी पुलिस ने 26 जून को दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में आरोपियों ने नकली नोट बनाने का ठिकाना जालोर शहर के सरावास स्थिति एक कॉम्पलेक्स में होने की जानकारी दी। इस पर पाली सदर पुलिस ने जालोर में कार्रवाई को अंजाम दिया। बताया जा रहा है कि गुरुवार देर रात को पाली सदर पुलिस आरोपियों के साथ उस कॉम्पलेक्स में पहुंची। जहां एक फ्लैट में यह कारोबार संचालित होता था। पुलिस ने यहां से नकली नोट छापने के कुछ उपकरण बरामद किए हैं। साथ ही नकली नोट भी बरामद किए है।

यह था मामला

गत 26 जून को सादड़ी पुलिस ने नकली नोट के मामले में दो युवकों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से सौ रुपए के 80 नकली नोट बरामद किए थे। आरोपी दिनेश मेघवाल व लतीफ शाह सादड़ी के ही रहने वाले है। पूछताछ में दोनों ने बताया था कि उन्होंने सादड़ी के एक व्यक्ति से नकली नोटों की यह खेप ली थी। पुलिस नकली नोट सप्लायर की तलाश कर रही थी। संदेह के आधार पर कांस्टेबल तेजसिंह व अजीतपाल ने देसूरी रोड स्थित पुराना पेट्रोल पंप के पास दिनेश पुत्र मूलाराम मेघवाल निवासी मेघवालों का बड़ा बास व रफीक पुत्र छोटू शाह निवासी तालाव स्कूल के पास सादड़ी को पकड़कर पूछताछ की। उनके कब्जे से 100-100 के 80 नकली नोट बरामद हुए थे। इस सम्बंध में सादडी थानाधिकारी मूलसिंह ने बताया सादड़ी पुलिस ने 26 जून का मामला पाली सदर पुलिस को सौंप दिया था। नकली नोट के मामले का अनुसंधान पाली सदर पुलिस कर रही है।

अब जुड़ी जालोर कड़ी

दोनों को रिमांड पर भेजा तो कड़ी जालोर से जुड़ी। सादड़ी पुलिस ने एक सौ रुपए के नकली 80 नोट के साथ गिरफ्तार किए आरोपी दिनेश मेघवाल व लतीफ शाह निवासी सादड़ी को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से दोनों को रिमांड पर सौंपा गया। अब इस मामले में आगे की जांच पाली में सदर थाना की पुलिस कर रही है। क्योंकि नकली मुद्रा संबंधी मामले की जांच के लिए पाली जिले में सदर थाना पुलिस को अधिकृत किया गया है। नकली नोट प्रकरण में सादड़ी निवासी रवि वाल्मीकि समेत अन्य लोगों के नाम सामने आए है, जिनकी पुलिस तलाश कर रहे है।

गिरोह का हो सकता है पर्दाफाश

फिलहाल, पुलिस पूरे मामले में गहनता से जांच कर रही है। साथ ही नकली नोट की सप्लाई व छपाई से जुड़ी कडिय़ां जोड़ रही है। ताकि गिरोह में शामिल अन्य सदस्यों के गिरबान तक पहुंचा जा सकता है। उम्मीद जताई जा रही है कि इस मामले में कई अन्य नाम भी उजागर हो सकते हैं।

पुलिस कर रही नोटों की गिनती

पुलिस ने कॉम्पलेक्स से बड़ी तादाद में नकली नोट बरामद किए हैं। हालांकि अब तक पुलिस ने इस रकम का खुलासा नहीं किया है, लेकिन सूत्रों का मानना है कि यह राशि बड़ी है और फिलहाल पुलिस नोटों की गिनती कर रही है। इसके बाद ही पुलिस इसकी पुष्टि करेगी।




Leave a comment