डॉक्टर व अस्पताल संचालक को आज किया जाएगा कोर्ट में पेश, अवैध रूप से सोनोग्राफी का मामला

जागरूक टाइम्स 404 Aug 10, 2018

भीनमाल @  जागरूक टाइम्स

भीनमाल-जालोर मार्ग पर स्थिति लाइफ लाइन हॉस्पिटल में गुरुवार रात करीब सवा सात बजे पीसीपीएनडीटी जयपुर की टीम ने दबिश देकर अस्पताल संचालक मुकेश बाफना व डॉ. जी.पी. प्रजापत को हिरासत में लिया। टीम ने सोनोग्राफी मशीन को कब्जे में लिया। इतनी बड़ी कार्रवाई से जहां पूरे शहर में हड़कम्प मच गया। वहीं कार्रवाई शुरू होने तक पुलिस व प्रशासन को खबर तक नहीं लगी। मामले में सामने आया कि अस्पताल के पास सोनोग्राफी करने का अधिकार ही नहीं था। बावजूद कायदों को ताक पर रखकर सोनोग्राफी की जा रही थी। 

दरअसल, पीसीपीएनडीटी एक्ट के तहत संबंधित डॉक्टर भी सोनोग्राफी नहीं कर सकता। एक्ट के तहत सोनोग्राफी के लिए सख्त नियम है। तीन दिनों से एक महिला डमी ग्राहक के तौर पर यह पहुंच रही थी। जिसे अस्पताल में चल रहे गोरखधंधे को ट्रेस करने के लिए भेजा गया था। आखिरकार गुरुवार शाम को महिला की ओर से टीम को इशारा करने पर टीम की ओर से मुकेश बाफना व डॉ गंगाराम प्रजापत को गिरफ्तार कर लिया। कार्रवाई के दौरान महिला भी साथ थी। 


टीम ने डॉक्टर और संचालक को गिरफ्तार कर लिया है। मशीन भी जब्त कर ली गई। टीम की ओर से गिरफ्तार किए गए अस्पताल संचालक मुकेश बाफना व डॉ. जे.पी. प्रजापति को शुक्रवार को ऐसीजेएम कोर्ट भीनमाल में दोपहर बाद पेश किया जाएगा। सरकार की तरफ से अभियोजन अधिकारी भोपालसिंह जी राठौड़ व आरोपियों की तरफ से वरिष्ठ अधिवक्ता नंदपालसिंह जी देवड़ा पैरवी करेंगे। फिलहाल, जिलेभर में अस्पताल संचालक की गिरफ्तार से चर्चाओं का बाजार गर्म है।

ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे ...

Leave a comment