प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने नवजात बच्चियों के पैसों को भी रोक दिया- देवल

जागरूक टाइम्स 227 Apr 20, 2019

रानीवाड़ा। विधायक नारायण सिंह देवल ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने नवजात बच्चियों के पैसों को भी रोक दिया है। देवल जालोर-सिरोही संसदीय क्षैत्र से भाजपा प्रत्याशी देवजी पटेल के समर्थन मे विभिन्न गांवो में आयोजित नुक्कड़ सभाओं को सम्बोधित करते हुए कहीं। उन्होंने 29 अप्रैल को होने वाले मतदान में सांसद व लोकसभा प्रत्याशी देवजी पटेल को अधिकाधिक संख्या में मतदान कर भारी मतों से विजयी बनाने की अपील की।

देवल ने शुक्रवार को डीगांव, भापड़ी, सामरानी, दांतवाड़ा, करवाड़ा सहित विभिन्न गांवों का दौरा करते हुए कांग्रेस सरकार को आड़े हाथों लिया। देवल ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि इस झूठी और छोटी सोच वाली कांग्रेस सरकार ने भाजपा सरकार की यशस्वी मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे द्वारा राजस्थान में नवजात बच्चियों के जन्म को लेकर राजश्री योजना को शुरू किया गया था। जिसमें बेटियों के जन्म पर 2500 रुपये दिए जाते थे लेकिन राजस्थान में कांग्रेस सरकार के आने के पश्चात राजश्री योजना को तो ग्रहण ही लग गया है।

विगत 3 महीने से राजस्थान में जन्मी बच्चियों को आज तक 2500 रुपए का भुगतान नहीं दिया गया है, यह राजस्थान की कांग्रेस सरकार। यही नहीं इस कांग्रेस सरकार ने राजस्थान में केंद्र की सरकार की सबसे बड़ी योजना आयुष्मान भारत योजना को आज दिन तक राजस्थान में लागू नहीं किया जबकि भारत के कई राज्यों में यह योजना लागू कर दी गई है। इस योजना में गरीब व मध्यम वर्ग सहित किसी भी वर्ग के परिवारों को किसी भी बीमारी के इलाज के लिए 5 लाख रुपये दिए जाएगें।

देवल ने बताया कि इस सरकार ने कई माह पीडब्लूडी ठेकेदारों के निर्माण कार्य के पश्चात का भुगतान भी अभी तक नहीं किया। जिससे सैकड़ों ठेकेदार जयपुर में धरने पर बैठ चुके हैं और राज्य में कई सड़कें आज तक अटकी व अधूरी है वहीं इस सरकार ने राजस्थान के किसान भाइयों के साथ एक बहुत बड़ा छल किया और वह था 10 दिनों में राजस्थान के किसानों का संपूर्ण कर्जा माफ करने का वादा।

वह भी अभी तक नहीं हो पाया है तो यह कांग्रेसी सरकार आने वाले समय में राजस्थान के लोगों का क्या भला करेगी जिसने बच्चियों, किसान भाइयों, निर्माण कार्य करने वाले ठेकेदारों सहित प्रत्येक वर्ग के हितों पर कुठाराघात किया है। इसलिए इनको हम सबको मिलकर एक साथ मुंह तोड़ जवाब देना होगा और वह है 29 अप्रैल को अधिक से अधिक संख्या में मतदान कर भारी मतों से देवजी भाई पटेल को वोट देकर विजयी बनाना।

Leave a comment